ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच सामने आई अच्छी खबर, 2 अध्ययनों से पता चलता है…

0
17

दुनिया भर में ओमिक्रॉन के मामले तेजी के साथ बढ़ रहे हैं। दक्षिण अफ्रीका में पाया गया ये वायरस पूरी दुनिया में आफ़त मचा रहा है। ऐसी स्थिति में आज एक ओमिक्रॉन संक्रमण को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। ब्रिटेन (Britain) के दो अध्ययनों से पता चलता है कि ओमिक्रॉन के साथ कोरोना संक्रमित होने पर अस्पताल में भर्ती होने की कम संभावना है। वहीं, अगर बात करें डेल्टा संस्करण (Delta Variant) की तुलना में, तो ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर बहुत ही कम लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ी है।

बता दें कि ये दोनों शोध बुधवार को सामने आए हैं। जो दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में सामने आई प्रवृत्ति की पुष्टि करते हैं। गौरतलब हैं कि शुरुआती अध्‍ययनों में एक पेपर स्‍कॉटलैंड से और दूसरा इंग्लैंड से, स्‍कॉटलैंड से सामने आए पेपर में बताया गया है कि डेल्टा की तुलना में ओमिक्रॉन कोविड -19 में अस्पताल में भर्ती होने के जोखिम में दो-तिहाई की कमी आती है। स्कॉटिश शोध के सह-लेखक जिम मैकमेनिन ने इसको अच्छी खबर बताया।

उन्होंने कहा कि “हम कह रहे हैं कि यह अच्छी खबर है, योग्य है क्योंकि ये शुरुआती अवलोकन हैं, सांख्यिकीय रूप से महत्वपूर्ण हैं और हम अस्पताल में भर्ती होने का कम जोखिम दर्शा रहे हैं।” वहीं, इंग्लैंड से सामने आए दूसरे पेपर में कहा गया कि डेल्टा की तुलना में ओमिक्रॉन के दौरान अस्पताल में किसी भी स्थिति में 20-25 प्रतिशत की कमी थी। बता दें कि इस अध्ययन के सह-लेखक इंपीरियल कॉलेज लंदन के अजरा गनी थे। जिन्होंने कहा कि “ओमिक्रॉन संस्करण के साथ अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम कम होता है, जबकि संक्रमण का जोखिम बहुत अधिक रहता है।”