दिल्ली में बढ़ते संकट को देख चिंतित हुए गृह मंत्री, बुलाई आपात बैठक..

0
95

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोनावायरस फिर एक बार बढ़ता हुआ दिख रहा है। इससे पहले भी दिल्ली में कोरोना का कहर बरसा था। लेकिन हाल ही में बढ़ते मामलों पर रोक लगाने में दिल्ली सरकार सफल रही थी। जिसके बाद अब एक बार फिर कोरोना दिल्ली में बेकाबू हो रहा है। जिसको देख गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने आपात बैठक (Urgent Meeting) बुलाई है। इस बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल भी शामिल होंगे और कोरोना के रोकथाम पर चर्चा की जाएगी।

दिल्ली में बढ़ते कोरोना संकट से परेशान होकर गृह मंत्री अमित शाह ने ये बैठक रखी है। बता दें कि बीते 12 दिनों में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रोजाना आने वाले कोरोना मामलों में तेजी देखी गई है। जिसके चलते इससे संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या में भी इज़ाफ़ा हो रहा है। बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 7340 नए मामलों की पुष्टि हुई है। वहीं इस दौरान 96 मरीजों की मौत भी हुई। इस समय दिल्ली में एक्टिव मामलों की संख्या काफी ज़्यादा हो चुकी है। जारी आंकड़ों के अनुसार ते संख्या 44 हजार 456 है जो कि अब तक के सबसे ज़्यादा एक्टिव केस हैं।

इससे पहले दीवाली से एक दिन पूर्व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक डिजिटल कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बताया था कि दिल्ली में बढ़ते मामलों की सबसे बड़ी वजह प्रदूषण है। उन्होंने कहा कि “कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर उनकी सरकार चिंतित है और जो भी जरूरी कदम उठाने की आवश्यकता है, उसे उठाया जा रहा है। अगले हफ्ते सरकार बहुत सारे कदम उठाएगी, जिसकी चर्चा जारी है। दिल्ली में अगले 10 दिनों के अंदर फिर से कोरोना काबू में आ जाना चाहिए।”