अनलॉ’क के पहले चरण में ही लिया बिहार सरकार ने फैसला, डॉक्टर समेत सभी….

0
316

कोरो’नावाय’रस नामक इस महामा’री ने लगभग पूरी दुनिया में अपनी पक’ड़ बना ली है। इस महामा’री के चलते बहुत से लोगों ने अपनी जाने गवा दी है। पूरे दुनिया की तरह भारत में इस संक्र’मण से संक्र’मित लोगों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। बता दें कि बिहार में इस वाय’रस ने आ’तंग मचा रखा है। वहीं राज्य में 30 जून तक सभी डॉक्टर्स और उनके साथ सभी स्वास्थ्यक’र्मियों की छुट्टी र’द्द कर दी गई है। कोरो’नावाय’रस के इस बढ़ते संक’ट को देख स्वास्थ्य विभाग ने ये आदेश जारी किया है। आदेश के चलते अस्पता’ल अधी’क्षक, प्राचार्य, डॉक्टर और पारा मेडि’कल कर्मियों की छुट्टी र’द्द कर दी गई है। पहले 31 मई तक छुट्टी र’द्द की गई थी।

देश में जारी लॉ’क डा’उन 5.0 की शुरुआत यानी अनलॉ’क वन का पहला चरण सोमवार से शुरू हो चुका है। जिसके चलते चलते धीरे धीरे सभी जगहों को खोला जा रहा है। बता दें कि कोरो’नावाय’रस के केह’र की वजह से पिछले 2 महीने से देश में सारी सुवि’धाओं पर पाबं’दी लगा दी गई थी लेकिन अब वो पा’बंदी धीरे धीरे ख़त’म हो रही है। नए आदेशों के चलते बिहार में भी सभी पाबं’दियों को स’माप्त कर फिर सब कुछ नॉर्म’ल हो जाएगा। फिलहाल बिहार में सड़क रेल के साथ-साथ हवाई सेवा को बहा’ल कर दी गई है।

खबरों के मताबिक बताया जा रहा है कि बिहार में कोरो’नावाय’रस से संक्र’मित 138 नए मामलों की पुष्टि हुई है। जिसके साथ ही बिहार में कोरो’ना से संक्र’मित लोगों की संख्या बढ़ कर 3945 हो गई है। वहां इस वाय’रस के च’पेट में आए 23 लोगों की मौ’त भी हो चुकी है और साथ ही अब तक 1741 म’रीजों को ठीक भी किया जा चुका है। बताया जा रहा है कि बिहार में कोरो’ना वाय’रस संक्रम’ण से अब तक खगड़िया में 3, बेगूसराय, भोजपुर, पटना, वैशाली और सीवान में 2-2 जबकि मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, नालंदा, समस्तीपुर, भागलपुर, सारण और जहानाबाद जिले में एक-एक व्यक्ति की मौ’त हुई है।