प्रशांत किशोर के साथ बैठक के बाद चर्चा में आए शरद पवार, बढ़ा सियासी तापमान…

0
107

देश में कोरोना की लहर ने काफी तबाही मचाई। हर राज्य में कोरोना का कहर देखने को मिला। ठीक कोरोना के कहर की तरह ही अब देश के हर राज्य में सियासी तापमान बढ़ता दिख रहा है। दिल्ली हो या उत्तर प्रदेश, पंजाब हो या महाराष्ट्र हर जगह सियासी लड़ाई शुरू हो गई है। खबर है कि एनसीपी (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी) के मुखिया शरद पवार (Sharad Pawar) ने राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishore) के साथ दिल्ली में बैठक की है। जिसके बाद से ही सियासी तापमान बढ़ा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक प्रशांत किशोर के साथ शरद पवार की इस बैठक को साल 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों से जोड़ा जा रहा है। माना जा रहा है की ये चुनावों की तैयारी के लिए ही बैठक की गई है। हालांकि इससे पहले भी एक बार दोनों बैठक कर चुके हैं। इससे 11 जून को दोनों की बैठक हुई थी। जानकारी मिली है कि शरद पवार पहली बार राष्ट्र मंच की बैठक में शामिल होने जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये बैठक मंगलवार शाम 4 बजे एनसीपी चीफ के घर पर ही होनी है और शरद पवार के साथ साथ इस बैठक में कई बड़े नेता भी शामिल हो सकते हैं।

बता दें कि ये बैठक मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ रखी जा रही है। राष्ट्र मंच कोई राजनीतिक मंच नहीं है। लेकिन इस मंच पर सरकार के खिलाफ राजनीतिक समेत अन्य मसलों पर चर्चा होती है और इसमें कई बड़े बड़े नेता हिस्सा लेते हैं। जिसकी वजह से इसको काफी महत्वपूर्ण समझा जाता है। गौरतलब हैं कि इस मंच की स्थापना यशवंत सिन्हा ने की थी। यशवंत सिन्हा मौजूदा समय में टीएमसी के उपाध्यक्ष हैं।