देश का ऐसा राज्य जो सिर्फ लॉकडाउन के भरोसे, टेस्टिंग स्पीड सबसे कम

0
328

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सरकार द्वारा कुछ ढील देते हुए 18 मई से लॉकडाउन 4.0 कर दिया गया है। ऐसे में जहां एक तरफ कोरोना वायरस के बचाव में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ साथ ज्यादा से ज्यादा कोरोनावायरस के परीक्षण पर बल दिया जा रहा है वहीं देश के राज्य तेलंगाना में काफी दिनों से सब कुछ गोपनीय रखा जा रहा है,और राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को कहा कि 14 मई तक राज्य में 22,842 परीक्षण किए गए हैं,जो कि देश के अन्य राज्यों के मुकाबले यह आंकड़ा सबसे कम है।

सूत्रों के मुताबिक अभी तक राज्य सरकार द्वारा कोई भी जानकारी ठीक से नही दी गयी हैं।एक तरफ राज्य की राजधानी हैदराबाद को केंद्र सरकार द्वारा हॉटस्पॉट चिन्हित किया गया है, दुसरी तरह इतनी कम टेस्टिंग निश्चित ही चिंता का विषय है।सरकार की ओर से परीक्षण की अंतिम आधिकारिक सूचना 30 अप्रैल को दी गई थी, जब मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने बताया था कि स्वास्थ्य विभाग ने अब तक लगभग 19,325 सैम्पल का परीक्षण किया है।इससे यह साफ ज़ाहिर है कि,यहां लगभग प्रति दिन 200 से कुछ ही अधिक परीक्षण हो रहे थे, जो दक्षिणी भारत के राज्यों में सबसे कम है. मई के पहले दो हफ्तों में इसने लगभग 3,500 परीक्षण किए हैं।

वहीं अन्य राज्यों की बात करें तो आंध्र प्रदेश, जो हाल ही में परीक्षण में तेजी लेकर आया है, प्रति दिन 5,000 से अधिक परीक्षणों के साथ अब तक दो लाख से अधिक (2,01,196) परीक्षण कर चुका है।कर्नाटक ने 1,28,373 सैंपल, तमिलनाडु 2,79,467 सैंपल का परीक्षण किया है, जबकि केरल ने इसी अवधि में (14 मई तक) 39,380 सैंपल के परीक्षण किए हैं।

जा’नकारी के लिए आपकों बता दें कि,देश मे कोरोना वायरस का आंकड़ा 1 लाख पर कर चुका है।देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 4970 मामले नये आए हैं। वहीं इनमें 134 लोगों की मौ’त हुई है। इसके बाद देशभर में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 101139 हो गई है। वहीं कोरोना के कारण अभी तक 3163 लोगों की मौ’त हो गई है।