दिल्ली,यूपी के बाद उत्तराखंड सरकार ने शराब पर टैक्स के साथ लिए कई बड़े अहम फ़ैसले……,

0
262

देश मे पिछले 40 दिनों के लॉकडाउन के बाद इस समय तीसरे चरण का लॉकडाउन चल रहा। ऐसे में अभी गतिविधियों के रुक जाने से और सभी की आर्थिक सहायता करने से देश के सभी राज्यो बाकी अर्थव्यवस्था पूरी तरीक़े से हिल चुकी है। ऐसे में केंद्र सरकार द्वारा शराब की दुकानें खोलने के निर्णय के बाद से दिल्ली,उत्तर प्रदेश, पंजाब के बाद अब उत्तराखंड सरकार ने भी शराब और टैक्स लगाने का निर्णय लिया है।

उत्तराखंड सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने बताया कि भारत निर्मित विदेशी शराब के मूल्यों में 20 रुपए से लेकर 200 रुपए प्रति बोतल तथा देसी शराब के दामों में 20 रुपए प्रति बोतल की वृद्धि कर दी गई है। उन्होंने बताया कि आयातित शराब के दामों में प्रति बोतल 475 रुपए की वृद्धि हो गई है। उन्होंने बताया कि विदेशी शराब के प्रमुख ब्रांडों में ब्लैंडर्स प्राइड और रॉयल स्टैग पर 50 रुपए प्रति लीटर और 20 रुपये प्रति लीटर का टैक्स लगेगा।

इसके अलावा राज्य में पेट्रोल और डीजल के दामो में भी क्रमशः दो रुपये और एक रुपये की वृद्धि की गयी है।इस वृद्धि के बाद राज्य में पेट्रोल के दाम 74.55 रुपए प्रति लीटर और डीजल के दाम 64.17 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं।इस बारे में कौशिक ने जा’नकारी देते हुए बताया कि,’ये दाम पडोसी उत्तर प्रदेश के बराबर हैं और इससे राज्य को 120 करोड रुपए का राजस्व प्राप्त होगा।’

इसके साथ ही कैबिनेट मंत्रीयों की बैठक में कारखानों में दो शिफ्ट में काम करने की अनुमति मंत्रिमंडल ने दे दी है। इसके लिए श्रमिकों को ओवर टाइम देना होगा।वहीं,मंत्रिमंडल ने फैसला लिया है कि 50 हेक्टेयर तक के खनन पट्टों पर अब मशीन से खनन हो सकेगा। मामला अदालत में विचाराधीन पचास हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र वालेे पट्टाधारकों को यह अनुमति नहीं दी गई है।