इस वाय’रस से चीन में हुई एक ही दिन में 354 लोगों की मौ’त, भारत में भी इसका खत’रा बढ़ा..

0
97

चीन में कोरोना वाय’रस का खत’रा बढ़ता जा रहा है। एक ही दिन में कोरोना वाय’रस से 254 लोगों की जा’न गई हैं। इनमें से अधिकतर मौ’त चीन के हुबेई प्रां’त में हुई हैं। कोरोना वाय’रस के मरी’जों की संख्या बढ़कर 60 हज़ार हो गई है।

सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ ने स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों के हवा’ले से कहा कि हुबेई प्रांत में बुधवार को रिकॉर्ड 242 लोगों की जा’न चली गई, जबकि इसी दिन 15 हजार नये मामले सामने आए।

एजेंसी के मुताबिक दो महीने से अधि’क समय पहले फैले कोरोना वाय’रस में जा’न गंवाने वालों की संख्या गुरुवार तक 1,367 हो गई है। इसके अलावा इससे संक्र’मित लोगों की तादा’द 59, 804 पहुंच गई है।

चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने गुरुवार को कहा कि “उन्हें 31 प्रांतीय स्तरीय क्षेत्रों और शिनजियांग उत्पाद एवं निर्मा’ण कोर की ओर से 15,152 नये मामलों और 254 लोगों की मौ’त की रिपोर्ट मिली है। इनमें से 242 मौ’तें हुबेई प्रांत में हुईं।”

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएसओ) ने कहा है कि चीन में कोरोना वाय’रस के नए मामलों में कमी आने के बावजूद इसके खा’त्मे के बारे में अभी भविष्य’वाणी करना बहुत जल्दबाजी होगी। गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, डब्ल्यूएसओ के महानिदेशक ट्रेडोस अधनोम घेब्रेयसुस ने कहा कि “यह महा’मारी अभी भी किसी भी दिशा में बढ़ सकती है। इससे पहले, चीन ने कोरोना वाय’रस के नए मामलों की जानकारी दी, जो पिछले दो हफ्तों में प्रतिदिन के हिसाब से सबसे कम है।”

वाय’रस की बढ़ती दहशत अब भारत तक पहुंच गई है। खबर है कि स्पाइसजेट की एक फ्लाइट में कोरोना वाय’रस का संदिग्ध मरी’ज बैंकॉक से दिल्ली पहुंचा है। उधर कोलकाता में थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान दो पॉजिटिव केस सामने आए हैं। केरल में भी केस सामने आए हैं।

इसी पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्द्धन ने कहा कि “देशभर के एयरपोर्ट्स पर अब तक लाखों यात्रियों की स्क्रीनिंग हो चुकी है। इसके अलावा भारत चिकि’त्सा से जुड़ी कुछ सामग्री चीन को भेज रहा है।”

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि “गुरुवार तक, 2,51,447 यात्रियों की हवाई अड्डों पर स्क्त्रीनिंग हो चुकी है। 12 प्रमुख और 65 छोटे बंदरगाहों पर भी स्क्रीनिंग की जा रही है। विदेश मंत्रालय की मद’द से हम कुछ चिकित्सा आपूर्ति, उपकर’ण और अन्य सामग्री चीन को सद्भावना उपाय के रूप में भेज रहे हैं।”