बस स्टेशन पर मिला कोविड-19 मरीज़ का श’व,अहमदाबाद अस्पताल से….

0
375

गुज़रात के अहमदाबाद शहर में लगातार कोरोनावायरस का सं’क्रमण बढ़ता जा रहा है। अहमदाबाद के अस्पताल से होम क्वॉ’रेंटाइन के लिए घर के लिए भेजे गए एक कोरोना वायरस सं’दिग्ध म’रीज का श’व 15 मई को बस स्टॉप पर पड़ा मिला है।ऐसे में इलाके के प्रशाशन की बड़ी लाप’रवाही सामने आई है।वही मृ’तक के परिवार वाले इस घटना के लिए अस्पताल के कर्मचारी और पुलिस प्रशासन को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं।

फिलहाल इस बारे में जा’नकारी देते हुए उस समय स्‍पेशल ड्यूटी ऑफिसर ने कहा कि, ‘कोविड 19 के गैर लक्षण वाला एक व्‍यक्ति यहां था।चूंकि वह गैर लक्षणी था तो उसे होम क्‍वा’रंटाइन की सलाह दी गई थी। हमने उसे घर ले जाने के लिए उसके परिवार से संपर्क करने का प्रयास किया था।लेकिन संपर्क नहीं हो पाने से उसे राज्‍य परिवहन की बस से घर के लिए भेजा था।लेकिन उसने बस स्‍टॉप पर ही रात गुजारी। अगले दिन बस स्‍टॉप पर उसका श’व मिला था। पुलिस इस बारे में अधिक जा’नकारी दे सकती है क्‍योंकि उन्‍हीं के द्वारा उसका पो’स्‍टमार्टम कराया गया था।’

बता दें कि,गुजरात के अहमदाबाद जिले में कोरोना वायरस के 275 नए मामले सामने आने के बाद यहां संक्रमण के मामले बढ़कर शुक्रवार को 9,724 हो गए। प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) जयंती रवि ने बताया कि गुजरात में पिछले 24 घंटे में जिन 29 लोगों की जान गई है, उनमें से 26 अहमदाबाद से थे।गुजरात में जा’न गंवाने वाले 802 लोगों में से 645 अहमदाबाद से थे। वही इस बीच नगर निगम ने दावा किया है कि बीते 15 दिनों में शहर में रिकवरी रेट में 140 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। गुरुवार को 24 घंटों में 25 लोगों की कोरोना से मौ’त होने के बीच जिले में रिकवरी रेट बढ़ने का दावा किया गया है। आईएएस राजीव गुप्ता ने बताया कि शहर में 5 मई को रिकवरी रेट 15.85 प्रतिशत था। 21 मई को शहर में रिकवर होने वालों की दर 38.1 दर्ज की गई थी। वहीं, इसी दिन गुजरात में रिकवरी रेट 42.51 प्रतिशत और भारत की रिकवरी रेट 41.06 प्रतिशत थी।