उत्तराखंड : Ankita Murder Case : परिजनों का अंतिम संस्कार से इनकार, बद्रीनाथ हाईवे जाम

0
9

श्रीनगर: अंकिता मर्डर केस मामले में लोगों में भारी आक्रोश है। अंकिता का आज अंतिम संस्कार किया जाना था, लेकिन परिजनों ने विस्तृत पोस्टमार्टम रिपोर्ट दिए जाने की मांग की है। उन्होंने पीएम पर सवाल खड़े करते हुए पूरी रिपोर्ट सार्वजनिक किए जाने के बाद ही अंतिम संस्कार कराए जाने की मांग की है। लोगों ने सरकार के रवैये पर सवाल खड़े किए हैं। यमकेश्वर के गंगा भोगपुर में स्थित रिसॉर्ट में कार्यरत रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी का अंतिम संस्कार किया जाना था, लेकिन परिजनों ने अंतिम संस्‍कार करने से मना कर दिया है।

अंकिता हत्याकांड को लेकर लोगों में गम व गुस्सा बरकरार है। श्रीनगर में अंकिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक करने की मांग को लेकर लोगों ने बदरीनाथ हाईवे जाम किया। अंकिता के स्वजन ने भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही अंतिम संस्कार करने की बात कही है। मोर्चरी के बाहर लोगों ने हंगामा किया। वहीं अंकिता के पिता ने लोगों से अपील की वह प्रदर्शन के दौरान सड़कें जाम न करें।

अंकिता के शव को अभी श्रीनगर मोर्चरी में रखा गया है। अंतिम संस्कार करवाने को लेकर उपजिलाधिकारी अजयबीर सिंह की स्वजन व प्रदर्शनकारियों से बातचीत जारी है। दूसरी ओर अवैध व पंजीकरण के बिना चल रहे रिजार्ट को लेकर पूरे प्रदेश में जांच जारी है। वहीं, श्रीनगर में भारी संख्‍या में लोग प्रदर्शन के लिए पहुंचे। इस दौरान अंकिता के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक करने और हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग को लेकर आक्रोशित जनता ने नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया।

श्रीनगर में मेडिकल कॉलेज की मोर्चरी के पास आक्रोशित जनता ने नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया। प्रदर्शन में विश्वविद्यालय के छात्रों के साथ ही व्यापारी और बुजुर्ग तथा बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं। श्रीनगर और श्रीकोटगंगानाली के बाजार भी बंद हैं। सआइटी इंचार्ज पी रेणुका देवी ने बताया है कि उन्‍होंने रिसॉर्ट के कर्मियों को पुलिस स्‍टेशन बुलाया है। हम हर एक के बयान दर्ज करेंगे। हम रिसॉर्ट के बैकग्राउंड का विश्लेषण कर रहे हैं।

अंकिता के वाट्सएप चैट्स की भी जांच की जा रही है। रविवार को श्रीनगर में पैतृक घाट में अंकिता का अंतिम संस्‍कार किया जाना है। जिसे लेकर यहां पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं, प्रदेश भर में अंकिता हत्‍याकांड से आक्रोश है। जगह-जगह धरने और प्रदर्शन हो रहे हैं। उत्‍तराखंड की बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए हाथ उठ रहे हैं। इसे देखते हुए पुलिस ने पैतृक घाट में सुरक्षा व्‍यवस्‍था बनाई हुई है।

भाजपा नेता के बेटे के रिसार्ट में काम करने वाली रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर ऋषिकेश में उबाल है। विभिन्न संगठनों के सदस्यों ने घाट चौराहा पर जाम लगाकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।उपस्थित लोगों ने भाजपा नेता विनोद आर्य के पुत्र पुलकित आर्य सहित तीनों आरोपितों को फांसी की सजा देने की मांग की हैं।

सरकार इस मामले की फास्ट ट्रैक पर सुनवाई कर अंकिता भंडारी के परिवार को न्याय दिलाए। सूचना पाकर उप जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह नेगी, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रवि सैनी यहां पहुंचे और उन्होंने प्रदर्शनकारियों से बात की। करीब एक घंटा जाम लगाने के बाद जाम खोल दिया गया।