सुरक्षाबलों में बढ़ रहे हैं कोरोना संक्रमण के केस, केंद्र सरकार ने जारी किया निर्देश……,

0
268

देशभर में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है।आम लोगों के साथ-साथ सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी और सुरक्षाबलों में भी बड़ी संख्या में कोरोनावायरस होने की पुष्टि हुई है।इन परिस्थितियों में को देखते हुए केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को निर्देश देते हुए कहा कि, सभी राज्य सरकारें विकल्प के तौर पर सेकंड लाइन विकसित करें।कहने का तात्पर्य है कि,सेकेंड लाइन के तौर पर सार्वजनिक स्थलों पर होमगार्ड, सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं और एनसीसी के कैडेट्स की तैनाती की जा सकती है।

दरअसल 1 हफ्ते पहले 55 वर्षीय एक सीआरपीएफ कर्मी की कोरोनावायरस होने से मृ’त्यु हो गई थी। ज्ञात हो कि इस समय देश में 200 से अधिक सुरक्षाकर्मी कोरोनावायरस से संक्रमित हैं लिहाजा ऐसे बढ़ते के केस को ध्यान में रखते हुए गृह मंत्रालय ने कहा, ‘‘कोविड-19 की चुनौती से निपटने और कोविड-19 को नियंत्रित करने के वास्ते पुलिस बलों को उन पुलिस कर्मियों के लिए एक प्रभावी दूसरी रक्षा पंक्ति तैयार करने की जरूरत है जो महामा’री के दौरान कोविड-19 संक्रमण से प्रभावित हो सकते हैं।’’ इसके साथ ही गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित राज्यों को लिखे गए एक पत्र में यह भी कहा कि, जो पुलिसकर्मी फ्रंट पर तैनात नहीं है उन्हें पुलिस विभाग ‘घर से काम’ करने के लिए रूपरेखा तैयार करें।

बता दें कि देश में इस समय कोरोनावायरस संक्रमण की जांच बड़े स्तर पर की जा रही है। रविवार देश में 10 लाख से अधिक टेस्टिंग हो चुकी है।स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार,पिछले 24 घंटों में कोरोना के सबसे अधिक 2,553 नए मामले सामने आए हैं और 72 लोगों की मौ’त हुई है। हालांकि, थोड़ी राहत वाली बात यह है कि इस बीमारी से अब तक 11,707 मरीज ठीक को चुके हैं।मरीजों का रिकवरी रेट 27.52 % पर पहुंच गया है, इसी के साथ देश मे कोरोना वायरस के मामले 42,533 हो चुके हैं।फिलहाल पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के आंकड़ों के हिसाब से भारत के हालात काफी बेहतर हैं।