ऋषि कपूर ने कैंसर जैसी बीमारी को हावी नही होने दिया खुद पर, हँसते-मुस्कुराते सबको कह दिया अलविदा

0
303

बॉलीबुड अभिनेता ऋषि कपूर का आज सुबह(30 अप्रैल) निधन हो गया।पिछले कुछ सालों से कैंसर जैसी बीमारी से लड़ते हुए दुनिया को आज सुबह 8 बजकर 45 मिनट पर अलविदा कह कर चल दिये।कपूर परिवार ने संदेश में कहा गया, ‘हमारे प्रिय ऋषि कपूर का ल्यूकेमिया के साथ दो साल की लड़ाई के बाद आज सुबह 8:45 बजे निधन हो गया।’

ऋषि कपूर बेहद ख़ुश मिज़ाज़ किस्म के इंसान थे।इतनी बड़ी बीमारी होने के बावजूद वह हमेशा सबसे ख़ुशी के साथ ही मिलते थे और हँसी मजाक करते रहते थे उन्होंने कभी भी किसी के सामने अपनी बीमारी का ज़िक्र करते हुए दुःख जाहिर तक नही किया।उनके परिवार ने सन्देश में लिखा कि,उनका(ऋषि कपूर) का कहना था कि,वह अपने प्रशंसकों के प्यार के लिए आभारी थे, जो दुनिया भर से आए थे।ऋषि कपूर के निधन के बाद प्रशंसक सभी समझेंगे कि वह (ऋषि) एक मुस्कान के साथ याद किया जाना पसंद करेंगे, आंसू के साथ नहीं।’

यहाँ तक कि,अस्पताल के डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ ने कहा कि,” उन्होंने (ऋषि कपूर) अंतिम वक्त तक मनोरंजन किया।वह जिंदादिल बने रहे और दो महाद्वीपों में दो साल के इलाज के बाद भी पूरी दृढ़ इच्छा के साथ जिंदगी जीते रहे।”

देश मे कोरोना वायरस से लॉकडाउन के चलते ऋषि कपूर कर परिवार ने फैन्स और सभी से यह भी सन्देश में कहा कि,’व्यक्तिगत नुकसान की इस घड़ी में, हम यह भी समझते हैं कि दुनिया बहुत मुश्किल और परेशान समय से गुजर रही है। सार्वजनिक रूप से इकट्ठा होने पर कई प्रतिबंध हैं। हम उनके सभी प्रशंसकों और शुभचिंतकों और परिवार के दोस्तों से अनुरोध करना चाहते हैं कि वे कानून का सम्मान करें।कोई दूसरा रास्ता नहीं है।’

बता दें कि,ऋषि कपूर ने फिल्मी करियर में सबसे पहली फ़िल्म उन्होंने 1970 में बाल कलाकार के रूप में फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा उसके बाद से तमाम फिल्में हम तुम’, ‘फना’, ‘नमस्ते लंदन’, ‘लव आजकल’, ‘पटियाला हाउस’, ‘अग्निपथ’, ‘हाउसफुल टू’ और कई फिल्मों के साथ आज तक अपनी एक्टिंग से धूम मचाते रहे।राज कपूर की फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ में उनके रोल के लिए ऋषि कपूर को नैशनल फिल्म अवॉर्ड से भी नवाजा गया था।यही नही सोशल मीडिया के दौर में वह अपने एग्रेसिव कमेंट के लिए भी खूब चर्चित रहे।