NPR माम’ले में अखिलेश यादव का ऐला’न, “हम नहीं भ’रते NPR, क्या करेंगे…?”

0
312
Akhilesh Yadav

नागरि’कता संशो’धन अधिनि’यम के ख़िला’फ़ विप’क्ष की सारी पार्टि’यों ने मो’र्चा खो’ला हुआ है यही नहीं देश भर में भी प्रो’टेस्ट का सि’लसि’ला जा’री है। ऐसे में स’त्ताप’क्ष भले ही अपनी ओर से CAA को सही बताने की कोशि’शें कर रहा हैं फिर भी ज’नता के साम’ने अपना प’क्ष सही नहीं सा’बित कर पा रहा है। ऐसे में वो भी विप’क्ष पर ज’नता को बह’काने का इ’ल्ज़ाम दे रही है। हाल ही में CAA और NPR के मु’द्दे पर समा’जवा’दी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने भी अपने वि’चार रखे।

एक सभा को सम्बो’धित कर रहे अखिलेश यादव ने कहा कि “अगर ज़रूर’त आ ख’ड़ी हुई तो मैं ऐसा पहला होऊँगा जो किसी भी तरह का कोई फ़ॉर्म नहीं भरूँ’गा। लेकिन सवा’ल ये है कि क्या आप इसके सम’र्थन में हैं या नहीं। हम नहीं भ’रते NPR, क्या करेंगे आप?”। आपको बता दें कि ये मु’द्दा लगाता’र उ’ठ रहा है कि CAA और NRC का सीधा सम्ब’न्ध NPR से है इसलिए इसका भी विरो’ध हो रहा है।

इसी माम’ले में BSP प्रमुख मायावती ने भी अपना और पार्टी का रू’ख सा’फ़ कर दिया है कि वो इन निय’मों का विरो’ध करती हैं। पथरिया से BSP की विधा’यक ने जब पार्टी की बातों से अल’ग जाकर CAA का सम’र्थन किया तो मायावती ने उन पर ऐ’क्शन लेते हुए तुरं’त पार्टी से निल’म्बित कर दिया और कहा कि पार्टी के विरु’द्ध जाने वालों के लिए पार्टी में कोई जग’ह नहीं है।

इस माम’ले में सर’कार भी चारों ओर से घि’री नज़’र आ रही है यहाँ तक की गृहमंत्री अमित शाह को भी अपना ब’यान बद’लने की नौ’बत आ गयी। उन्होंने कहा कि उन्होंने कभी भी NRC को देशभर में ला’गू करने की बात ही नहीं की जबकि संस’द में उन्हें ऐसा कई बार कहते सभी ने सुना।