मध्य प्रदेश में हुई घट’ना पर कांग्रेस पार्टी ने बोला मुख्यमंत्री पर हम’ला, कहा ‘श’र्म करो..’

0
241

मध्य प्रदेश के दमोह जिले में बच्ची के साथ हुई घट’ना का मामला सामने आया था जिसपर कांग्रेस पार्टी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हम’ला बोला है। कांग्रेस पार्टी ने इस घटना को शर्म’नाक बोल इसपर दुख जाहिर किया है। पार्टी ने ट्वीट कर के कहा कि “दमोह में रौं’द दी गई मासूम: मध्यप्रदेश के दमोह में एक 7 वर्ष की मासूम के के साथ बला’त्कार कर उसकी दोनों आंखें फोड़कर मासूम को खेत में फेंक दिया गया। शिवराज के एक माह में ही 2018 के पहले की ची’खें फिर सुनाई पड़ने लगी। ‘शर्म करो शवराज’। पनौती हटाओ मध्यप्रदेश बचाओ।” पुलिस की जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश में बुधवा’र की शाम एक छह सात साल की बच्ची के साथ दुष्क’र्म की घ’टना की खबर सुनने को मिली थी।

पुलिस ने बताया कि हम’लावर ने बच्ची के घर के पास ही इस घटना को अं’जाम दिया था। जिसके बाद बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। साथ ही पुलिस ने बताया कि बच्ची घर के पास अपने दोस्तों के साथ खेल रही थी। इसी बीच एक अंजाम व्यक्ति ने उसे उठा लिया। वह बच्ची तभी से लापता थी और अगले दिन सुबह उसका पता लगा। पुलिस अधिकारी, हेमंत सिंह चौहान ने बताया कि “बच्‍ची के साथ रेप किया गया और उसके आंखों पर भी गं’भीर चोटें हैं।”आगे उन्होंने बताया कि पुलिस ने इस संबंध में कई लोगों से पूछताछ की और मिले सुरागो के आधा’र पर पुलिस आगे कारवाई करेगी। बता दें कि पुलिस इस बच्ची और उसके परिवा’र को जबलपुर लेकर गई जहां उसकी चो’टों का इलाज किया जा रहा है।

ऐसे मुश्किल वक़्त में इस घटना ने मध्य प्रदेश को बड़ा झ’टका लगा है और सरकार ने हम’लावर को पकड़ने वाले पर 10,000 रुपये का इनाम घोषित किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस घ’टना को शर्म’नाक बताते हुए दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट में कहा कि “दमोह ज़िले में एक मासूम बिटिया के साथ हुई दुष्कर्म की घटना शर्म’नाक और दुर्भाग्यपू’र्ण है। मैंने घटना का संज्ञान लेकर अपरा’धी को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए हैं। उस दरिंदे को सख्त से सख्त सज़ा दी जाएगी। बिटिया के समुचित इलाज में किसी भी प्र’कार की कमी नहीं आने दी जाएगी।” इससे पहले भी कांग्रेस ने शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया था। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट में बीजेपी सरकार को घेरा और घटना को “भयावह और अमानवीय” कहा था। उन्होंने लिखा कि “शिवराज जी, ये प्रदेश में क्या हो रहा है। लॉकडाउन में भी अपरा’धियों के हौस’ले बुलंद हैं।”