रैपिड टेस्टिंग किट की जांच पर आईसीएमआर ने जारी किए निर्दे’श, कहा ‘अभी कुछ दिन और..’

0
260

भारत में कोरोना वाय’रस से संक्र’मित लोगों की संख्या में तेजी से इज़ाफ़ा होता जा रहा है। अबतक देश में कोरोना वाय’रस से 680 से अधिक लोगों की मौ’त हो चुकी है तो वहीं 21 हज़ार से ज़्यादा लोग इस वाय’रस की च’पेट ने आ चुके हैं। ऐसे माहौल में भी कोरोना वाय’रस के इलाज के लिए रैपिड टेस्टिंग किट की जांच पर अभी कुछ और दिन रोक जारी रहेगी। दरअसल शीर्ष मेडिकल बॉडी भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने अपनी जो टीमें फील्ड पर भेजी थी वह अभी जांच कर रही है। जिसे लेकर आईसीएमआर जल्द ही गाइडलाइंस जारी करेगा। बता दें कि आईसीएमआर ने राज्यों में मिलने वाली शिकायतों के आधार पर दो दिन की रोक लगाई थी।

आपको बता दें कि सरकार ने चीन से इस महीने की शुरुआत में ही 6.5 लाख रैपिड टेस्टिंग किट खरीदे थे। भारत में सभी कोरोना वाय’रस हॉटस्पॉट घोषित किए इलाकों में आईसीएमआर द्वारा सभी लोगों के परीक्ष’ण की सलाह के बाद उन्हें देश भर में वितरित किया गया था। बता दें कि रैपिड किट से परीक्ष’ण चार दिन पहले ही शुरू किया था। परन्तु राज्यों की तरफ से की गई शिकायतों के बाद इस पर दो दिन की रोक लगा दी थी। इस संबंध में आईसीएमआर के वरिष्ठ वैज्ञानिक रमन आर गंगाखेड़कर ने जानकारी दी कि इस किट के परीक्ष’ण को लेकर एक राज्य से शिकायत मिली थी जिसके बाद आईसीएमआर ने तीन और राज्यों से इस बात की पुष्टि की जिसके बाद आईसीएमआर को यह क़दम उठाना पड़ा।

बता दें कि कोरोना वाय’रस का क’हर भारत में अभी भी बरपा रहा है। आए दिन इसके नए मामले देखने को मिल रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताज़ा मामलों पर नजर डाले तो भारत में कोरोना वाय’रस से संक्र’मित लोगों की तादाद 21,393 तक पहुंच गई है। वहीं इससे 681 लोग अपनी जान गंवा बैठे हैं। हालांकि राहत की खबर यह है कि भारत में कोरोना वाय’रस से ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 4,258 हो गई है। बता दें कि बीते चौबीस घंटों में कोरोना वाय’रस के 1409 और मामले सामने आए हैं और 41 लोगों की जाने जा चुकी हैं।