शहीद कर्नल मनप्रीत और मेजर आशीष को आज दी जाएगी अंतिम सलामी

0
145

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए कर्नल मनप्रीत सिंह और मेजर आशीष धौंचक का आज पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा. करनाल मनप्रीत सिंह का अंतिम संस्कार पंजाब के मोहाली जिले में उनके पैतृक गांव भारौंजियां में होगा. वहीं मेजर आशीष का हरियाणा के पानीपत में उनके पैतृक गांव बिंझौल में अंतिम संस्कार होगा. मेजर आशीष का पार्थिव शरीर पानीपत स्थित उनके नए मकान में पहुंच गया है.

मोहाली में पतृक गांव में होगा शहीद कर्नल मनप्रीत सिंह का अंतिम संस्कार: सेना के अधिकारियों से बातचीत के बाद शहीद कर्नल मनप्रीत सिंह के भाई संदीप सिंह ने कहा कि आज दोपहर 12 बजे के करीब मनप्रीत सिंह का पार्थिव शरीर घर पर लाया जाएगा. उसके बाद राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा.

नए घर में पहली और आखिरी बार प्रवेश: पानीपत में मेजर आशीष धौंचक का नया घर बनकर तैयार है. आशीष इसी मकान के उद्घाटन के लिए अगले महीने छुट्टी पर आने वाले थे. मां के कहने पर ही पार्थिव शरीर को नए घर में लाया गया है. आशीष की मां का कहना है, बेटे के सपनों के घर में उसके कदम आखिरी बार जरूर पड़ने चाहिए.

देशसेवा की मिसाल है शहीद कर्नल मनप्रीत का परिवार, 22 लोग रह चुके हैं फौज में, एक गली से 19 जवानपतृक गांव में होगा शहीद आशीष का अंतिम संस्कार: बता दें कि, आज मेजर आशीष धौंचक को उनके पैतृक गांव बिंझौल में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी. शहीद मेजर आशीष की अंतिम यात्रा में कई बड़े नेता और अधिकारी उनके पैतृक गांव पहुंचने वाले हैं. पार्थिव शरीर के दर्शन के लिए भारी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं. शहीद मेजर आशीष अपने पीछे माता, पिता, पत्नी और ढाई साल की बेटी छोड़ गए हैं.