सोना खरीदना है तो न करें देर, आसमान छू सकते हैं दाम

0
34

नई दिल्ली : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सोने की कीमत में तेजी का सिलसिला जारी है। अगर आप सोना खरीदने वाले हैं तो ये काम जितनी जल्दी हो सके, कर डालें। कहीं ऐसा न हो कि सोना इतना महंगा हो जाए कि आप खरीद न पाएं। सोने की कीमतों में लगातार आठवें हफ्ते तेजी आई है। डॉलर इंडेक्स में कमजोरी और कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण, सोने की कीमत में लगातार आठवें सप्ताह मजबूत हुई। शुक्रवार को फरवरी 2023 के लिए सोने का वायदा अनुबंध एमसीएक्स (मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज) पर 54,561 प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। सोने की साप्ताहिक बढ़त 236 रुपये प्रति 10 ग्राम रही। अंतरराष्ट्रीय बाजार में हाजिर सोने की कीमत 1,797 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुई, जो पिछले शुक्रवार के बंद भाव से करीब 5 डॉलर प्रति औंस अधिक है।

कमोडिटी मार्केट के जानकारों के मुताबिक, नए सिरे से कोविड का डर फैलने और डॉलर इंडेक्स में नरमी की वजह से सोने की कीमतों में तेजी आ रही है। मुंबई में सोने का थोक कारोबार करने वाले अनंत मजीठिया कहते हैं कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था में विस्तार के बाद वैश्विक आर्थिक मंदी का डर कम हुआ है। उन्होंने बताया कि सोने की कीमतों में वॉल्यूम कम रहने की आशंका है और इसके चलते कीमतें निकट भविष्य में ‘पॉजिटिव’ रहने की उम्मीद है। सोने की हाजिर कीमत 1,780 डॉलर से 1,820 डॉलर के दायरे में रह सकती है, जबकि घरेलू बाजार में सोने की कीमत 54,000 रुपये से 55,000 रुपये के दायरे में रहने की उम्मीद है।

अनंत मजीठिया निवेशकों को शार्ट टाइम के लिए ‘गिरावट पर खरीदारी’ की रणनीति बनाए रखने की सलाह देते हैं। उनका मानना है कि निकट भविष्य में कोविड के मामले बढ़ते रहे तो सोना ‘निवेशकों के लिए आश्रय’ बन सकती है। मुद्रास्फीति में कमी और अमेरिकी फेडरल रिजर्व की धीमी गति से ब्याज दरों में बढ़ोतरी ने 2022 के अंत में कीमती धातुओं को सपोर्ट किया है। उभरते बाजार की मुद्राओं के तेज मूल्यह्रास ने निवेशकों को सोने और चांदी की ओर आकर्षित किया।