ग्राहकों के लिए बड़ी ख’बर, खरीदारी करते समय यह काम करने पर बन सकते हैं करो’डपति

0
460
धनवर्षा

माल एवं सेवा कर (जीएसटी) चो’री रोकने के लिए सरकार इसी योजना जारी करने वाली है जो आपको करो’डपति बना सकती है। 1 अप्रैल से जीएसटी व्यवस्था के तहत सरकार इस योजना को शुरू करेगी। इस योजना के ज़रिए एक लॉटरी की तैयारी की जा रही है जिसमें हर महीने दुकानदार और खरीदार के बीच सौदे के हर बिल को लकी-ड्रॉ में शामिल किया जाएगा।

इस योजना के बारे में एक अधिकारी ने बताया कि यह लॉटरी योजना ग्रा’हकों को दुकानों से हर खरीद का बिल/रसीद मांगने को प्रात्सा’हित करने के लिए सोची गई है। इससे जीएसटी की चोरी रोकने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस लॉटरी में ग्रा’हक एक करोड़ तक का इनाम जीत सकते हैं।

साथ ही उन्होंने इसमें भाग लेने के बारे में बताते हुए कहा कि इसमें भाग लेने के लिए उपभोक्ताओं को किसी भी खरीद की रसीद स्कैन करके अपलोड करना होगा। अधिकारी ने कहा कि इसमें भाग लेने के लिए किसी तय राशि की रसीद की कोई सीमा नहीं होगी। लॉटरी में जो अव्वल आएगा उसको एक करो’ड़ का इनाम दिया जाएगा। साथ ही दूसरे और तीसरे विजेता भी चुने जाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि इस योजना के लिए जीएसटी नेटवर्क एक मोबाइल ऐप बना रही है। एंड्रॉयड और एप्पल के यूजर्स के लिए यह ऐप महीने के आखिर तक आ जाएगा।

पिछले महीने ही सीबीआईसी के अधिकारी ने बताया था कि इस लॉटरी में लाख रुपए से करो’ड़ रुपए तक का इनाम हो सकता है। 14 मार्च को जीएटी परिषद इस योजना पर बैठक में इसके लिए फ़ैस’ला ले सकती है। इस लॉटरी का पैसा मुनाफा’खोरी के मामलों में जु’र्माने से आएगा। जीएसटी कानून में मुनाफा’खोरी के खि’लाफ कार्रवाई का प्रावधान है। इसमें दं’ड का पैसा उपभोक्ता कल्या’ण को’ष में रखा जाता है।