एक बार फिर अमित शाह के निशाने पर अखिलेश यादव, बोले “जो अपने पिता-चाचा की…”

0
19

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले फिर एक बार केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सपा और राष्ट्रीय लोकदल को निशाना बनाया। अमित शाह ने अनूपशहर (Anupshahar) में एक जनसभा संबोधित करते हुए अखिलेश यादव और उनके साथी जयंत चौधरी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि “बीते दिनों अखिलेश जी ने जयंत चौधरी जी को अपने साथ बैठाया था। जयंत जी को लगता है कि उनकी सरकार बनी, तो उनकी सुनी जाएगी। जयंत जी, गलतफहमी में मत रहना। जो अपने पिताजी और चाचाजी की नहीं सुनता, वो आपकी क्या सुनेगा।”

संबोधन के दौरान गृह मंत्री ने कहा कि “उत्तर प्रदेश के माफिया अब केवल 3 ही जगह हैं। या तो प्रदेश से बाहर हैं, या जेल में हैं या अखिलेश यादव की सूची में विधायक बनने के लिए आतुर हैं। माफियाओं को उल्टा करके सीधा करने का काम हमारे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने किया है। सपा-बसपा ने 10 साल तक यूपीए सरकार का समर्थन किया था। मैं इनसे पूछता हूं कि आपने जिस सरकार का समर्थन किया था, उसने उत्तर प्रदेश को क्या दिया?”

बयान जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि “पूरे प्रदेश में 2 हजार करोड़ से ज्यादा मूल्य की भूमि ये माफिया हड़प करके बैठे थे। मैं बहन जी और अखिलेश बाबू से पूछना चाहता हूं कि इसमें आपकी मिलीभगत थी या नहीं। स्वर्गीय कल्याण सिंह जी को पद्म-विभूषण से सम्मानित करने का काम मोदी सरकार ने किया है। बाबूजी ने हंसते-हंसते मुख्यमंत्री पद की कुर्सी राम मंदिर के लिए भेंट चढ़ा दी थी। लेकिन सपा सरकार ने कार सेवकों पर गोली चलवाई थी।”