रोमांचक मुकाबले में एक रन से हारे डेयरडेविल्स

0
119

दक्षिण अफ्रीका के क्रिस मौरिस की तूफानी पारी भी दिल्ली डेयरडेविल्स को आईपीएल 9 के सांस रोक देने वाले मैच में जीत नहीं दिला सकी। मौरिस के 32 गेंदों पर आठ गगनचुंबी छक्कों और चार चौकों की मदद से खेली गई नॉटआउट 82 रन की आतिशी पारी के बावजूद दिल्ली यहां बुधवार को गुजरात लायंस से एक रन से हार गई।
आखिर के दो ओवर मे गुजरात के मध्यम तेज गेंदबाज डवेन ब्रावो और प्रवीण कुमार की कसी हुई गेंदबाजी के चलते फिरोजशाह कोटला मैदान पर दिल्ली जीत के बहुत करीब पहुंचकर उसे हासिल करने से महरूम रह गई।
दक्षिण अफ्रीका के मौरिस, जो पॉल डुमिनी और लेग स्पिनर ताहिर इमरान की जांबाजी दिल्ली के युवा तुर्कों ने भी दिखाई होती तो वह यह रोमांचक मैच जीत सकती थी। आखिरी ओवर में दिल्ली को जीत के लिए 14 रन चाहिए  इसमें गुजरात लायंस के ब्रावो ने मात्र 12 रन ही दिए हालांकि इस ओवर की पहली ही गेंद पर मौरिस का कैच जेम्स फॉकनर ने टपकाया था।
ड्वेन स्मिथ (53) और मैककुलम की सलामी जोड़ी ने फिरोजशाह कोटला मैदान पर पहले विकेट की मात्र 64 गेंदों में 112 रन की जोरदार भागीदारी की बदौलत गुजरात लायंस ने पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाए जाने पर निर्धारित 20 ओवर में  छह विकेट पर 172 रन का मजबूत स्कोर बनाया।
मिडल ओवरों में दिल्ली के लेग स्पिनर इमरान ताहिर (3/24) और पेसर क्रिस मॉरिस (2/35) की बेहतरीन गेंदबाजी के सामने गुजरात ने 11वें और 17वें ओवर के बीच 30 रन जोड़ कर छह विकेट गंवा दिए।
जवाब में मैन ऑफ द मैच दिल्ली क्रिस मॉरिस के नॉटआउट 82 रनोंकी तूफानी पारी और  डुमिनी (48 रन, 43 गेंदें, एक छक्का, तीन चौके) साथ पांचवें विकेट के लिए 27 गेंदों में 87 रन की तूफानी भागीदारी के बावजूद दिल्ली डेयरडेविल्स निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट खोकर 171 रन ही बना सकी और मैच हार गई।
दिल्ली डेयरडेविल्स को पॉवरप्ले में अपने कप्तान मध्यम तेज गेंदबाज जहीर खान की ढीली गेंदबाजी और युवा तुर्को से सज्जित शीर्ष क्रम की गैर जिम्मेदाराना बल्लेबाजी का खामियाजा भुगतना पड़ा।
ड्वेन स्मिथ और ब्रैंडन मैककुलम की सलामी जोड़ी की पॉवर प्ले में तूफानी भागीदारी और मध्यम तेज गेंदबाज धवल कुलकर्णी (3/19) ने कहर बरपाने वाली गेंदबाजी कर दिल्ली के तीन विकेट शुरू के चार ओवर में मात्र 16 रन निकाल दिए थे।
धवल कुलकर्णी ने अपने शुरू के दो ओवरों में सलामी बल्लेबाज संजू सैमसन (1), क्विंटन डी कॉक (5) और करूण नायर (9) को अंत कर दिल्ली की कम ही तोड़ दी थी। इससे पहले पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाए जाने पर गुजरात लायंस के मैककुलम ने 27 गेंदों में और स्मिथ ने मात्र 26 गेंदों में अपनी-अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की। इन दोनों ने इस दौरान अपनी अपनी पारी में तीन-तीन छक्के और पांच -पांच चौके जड़े । इन दोनों ने मात्र 54 गेंदों में मौजूदा आईपीएल में सबसे तेज 100 रन जोड़े ।