CM के संक्रमि’त होने पर कमलनाथ ने साधा नि’शाना, ट्वीट कर कहा….

0
586

देश भर में कोरो’ना वाय’रस का संक्र’मण तेज़ी से फैलता जा रहा है। इस वाय’रस का शि’कार बहुत से आम लोगों समेत महान हस्तियों भी हुई। ऐसे में खबर है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी इस वाय’रस के चपे’ट में आ गए है। शिवराज के कोरो’ना वाय’रस से संक्रमि’त होने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता कमलनाथ ने सीएम के स्वस्थ होने की कामना की और साथ ही उन पर आ’रोप लगाया कि वह कोरो’ना को लेकर काफी लापरवाह है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि “मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  के अस्वस्थ होने की जानकारी मिली। ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।” कमलनाथ ने अपने ट्वीट में लिखा कि “शिवराज जी , आपके कोरो’ना संक्र’मित होने की जानकारी मिलने पर काफ़ी दुःख हुआ। ईश्वर से आपके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। बस अफ़सोस इस बात का है कि जब हम कोरो’ना को लेकर गं’भीर थे , तब आप कोरो’ना को कभी नाटक बताते थे , कभी डरोना बताते थे , कभी सत्ता बचाने का हथि’यार बताते थे।”

शिवराज को नि’शाना बनाते हुए उन्होंने लिखा कि “कभी हम पर कुछ आ’रोप लगाते थे , कभी कुछ कहते थे , कभी कुछ। हम शुरू से कहते थे कि यह एक गं’भीर बीमा’री है , इससे संभलकर रहने की आवश्यकता है , सावधान रहने की आवश्यकता है , इसके प्रोटोकॉल के पालन की आवश्यकता है। शायद आप भी इससे संभल कर रहते, प्रोटोकॉल, गाइडलाइन व सावधानी का पूरा पालन करते , इसको मज़ाक़ में नहीं लेते तो शायद आप इससे आज बचे रहते। ख़ैर कोई बात नहीं , आप जल्द स्वस्थ होकर वापस काम पर लौटेंगे , ऐसी ईश्वर से प्रार्थना है व पूर्ण विश्वास है।

वहीं इससे पहले खुद के कोरो’ना संक्रमि’त होने पर शिवराज सिंह ने ट्वीट किया कि “मेरे प्रिय प्रदेशवासियों, मुझे COVID19 के लक्षण आ रहे थे, टेस्ट के बाद मेरी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मेरी सभी साथियों से अपील है कि जो भी मेरे संपर्क में आए हैं, वह अपना कोरो’ना टेस्ट करवा लें। मेरे निकट संपर्क वाले लोग क्वारन्टीन में चले जाएं। मैं COVID19 की सभी गाइडलाइन्स का पालन कर रहा हूं। डॉक्टर की सलाह के अनुसार स्वयं को क्वारन्टीन करूंगा।” अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि “मेरी प्रदेश की जनता से अपील है कि सावधानी रखें, जरा सी असावधानी कोरो’ना को निमंत्रण देती है। मैंने कोरो’ना से बचने के हर संभव प्रयास किए लेकिन अनेक विषयों को लेकर लोग मिलते थे। COVID19 का समय पर इला’ज होता है तो व्यक्ति बिल्कुल ठीक हो जाता है। मैं 25 मार्च से प्रत्येक शाम को कोरो’ना संक्रम’ण की स्थिति की समीक्षा बैठक करता रहा हूं। मैं यथासंभव अब वीडियो कांफ्रेंसिंग से कोरो’ना की समीक्षा करने का प्रयास करूंगा। मेरी अनुपस्थिति में अब यह बैठक गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, नगरी विकास एवं प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह , स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री पीआर चौधरी करेंगे। मैं स्वयं भी इला’ज के दौरान प्रदेश में COVID19 नियंत्रण के हरसंभव प्रयास करता रहूंगा।”

उन्होंने बताया कि “मुझे डॉक्टर्स ने अस्पता’ल में भर्ती होने की सलाह दी है, मैं COVID19 डेडिकेटेड चिरायु अस्पता’ल में भर्ती होने जा रहा हूं। कोरो’ना के मरीज को ज़िद नहीं करना चाहिए कि हम होम क्वारन्टीन ही रहेंगे या अस्पता’ल नहीं जायेंगे। हमें डॉक्टर्स के निर्देश का पालन करना चाहिये। मैं अपने सभी साथियों से अपील करता हूं कि COVID19 के ज़रा भी लक्षण आये तो लापरवाही न बरतें, तत्काल टेस्ट कराएं और उपचार प्रारम्भ करें।” अपनी सेहत की बात करते हुए वो कहते है कि “COVID19 की रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद मैं डॉक्टर की सलाह पर चिरायु अस्पता’ल में एडमिट हो गया हूं। वहां सभी प्रकार के टेस्ट किये गये हैं। मैं पूर्ण रूप से स्वस्थ हूं। मेरे शुभेच्छुओं ने मेरे लिए जो शुभकामनाएं दी हैं, मैं उसके लिए सभी को धन्यवाद देता हूं। जनता का कोई काम बाधित न हो, इसलिए अस्पता’ल से काम करता रहूंगा। आप सभी से आग्रह है कि मास्क पहनें, दो गज की दूरी पर रहें और सभी स्वास्थ्य निर्देशों का पालन अवश्य करें।”