छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले के बाद असम में रद्द हुई भाजपा की रैलियां, गृह मंत्री अमित शाह भी हुए…

0
28

छत्तीसगढ़ का नक्सल प्रभावित जिला बीजापुर में शनिवार शाम नक्सलियों ने 700 से अधिक सुरक्षाबलों को घेरकर उन पर हमला कर दिया। नक्सली और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़ में 22 जवान शहीद हो गए और कई जवान अब भी लापता हैं। जिसको देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपना आसाम दौरा रद्द कर दिया है। जानकारी के मुताबिक रविवार को असम में होने वाली चुनावी रैली अब नहीं होंगी। बता दें कि असम में रविवार को तीन चुनावी रैलियां होनी थी। जिसमें से गृह मंत्री ने एक रैली को संबोधित किया और फिर इस हमले पर शोक बताते हुए बाकी दो रैलियों को रद्द कर दिया।

असम चुनाव में भाजपा के सह प्रभारी और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि “गृह मंत्री अमित शाह असम चुनाव प्रचार के लिए गए हुए थे, लेकिन उन्होंने छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले के चलते अपने चुनाव प्रचार अभियान के कई कार्यक्रम रद्द कर दिए।” बताया जा रहा है कि अमित शाह दोपहर बाद ही दिल्ली लौट रहे हैं और दिल्ली पहुंचकर वह वरिष्‍ठ अफसरों से नक्‍सली हमले में पैदा हुए हालात पर चर्चा करेंगे।

वहीं उनसे पहले रविवार की सुबह में गृह मंत्री अमित शाह ने खुद एक ट्वीट कर नक्‍सली हमले को लेकर शोक जताया था। उन्होंने ट्वीट में लिखा था कि “छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से लड़ते हुए शहीद हुए हमारे बहादुर सुरक्षाकर्मियों के बलिदान को मैं नमन करता हूं. देश उनकी वीरता को कभी नहीं भूलेगा। मेरी संवेदना उनके परिवारों के साथ है। हम शांति और प्रगति के इन दुश्मनों के खिलाफ अपनी जंग जारी रखेंगे। कामना है कि घायल जवान जल्‍द ठीक होंगे।” सूत्रों के मुताबिक अमित शाह ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से इस हमले को लेकर बातचीत की है और साथ ही उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। बता दें कि इस हमले में 22 जवानों के शहीद होने की जानकारी मिली थी। इन 22 जवानों में से अब तक 17 जवानों के शव बरामद किए गए हैं।