बुरी तरह से बिगड़ चुकी है श्रीलंका की आर्थिक स्थिति, नहीं चुका पाएगा विदेशी कर्ज…

0
66

कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर के सभी देशों की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई। जिसमें कुछ देश ऐसे रहे जिन्होंने फिर एक खुद को संभाल लिया तो कुछ अब भी इस संकट से जूझ रहे हैं। इनमें से एक देश श्रीलंका भी है, कोरोना काल के बाद से ही श्रीलंका पर आर्थिक संकट छाया हुआ है। इस मुश्किल घड़ी में श्रीलंका से एक और बुरी खबर सामने आ रही है। जानकारी के अनुसार मंगलवार को श्रीलंका की सरकार ने एक घोषणा की है, जिसके बाद से वहां के सभी निवासी काफी परेशान हैं।

बता दें कि श्रीलंकन सरकार ने घोषणा कर बताया है कि वो $51 बिलियन का विदेशी कर्जा चुकाने की हालत में नहीं है। श्रीलंकाई सरकार का कहना है कि कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के बाद से ही देश की आर्थिक स्थिति नियंत्रण में नहीं आ पाई है। इस बीच श्रीलंकाई वित्त मंत्री ने कहा कि “दक्षिण एशियाई देश श्रीलंका को कर्जा देने वाले और विदेशी सरकारें मंगलवार दोपहार से कर्जे की कोई भी ब्याज लगा सकते हैं या फिर श्रीलंकाई रुपए में अपना कर्जा वापस ले सकते हैं।”

इनके साथ साथ देश के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने भी देश की आर्थिक स्थिति पर बयान जारी किया है। उन्होंने कहा है कि “कोविड लॉकडाउन ने देश की इकोनॉमी को और खराब करने का काम किया है. इसके कारण फॉरेन रिजर्व की कमी का सामना करना पड़ रहा है।” इस बीच उन्होंने बताया कि इसको सुधरने के लिए सरकार दिन और रात काम कर रही है। आपको बता दें कि आर्थिक स्थिति बिगड़ने की वजह से देश में लंबे वक्त तक बिजली कटौती भी हुई है।