बारिश से बड़ा हादसा, मंदिर की शेड पर पेड़ गिरने से 7 की मौत, 30 लोग घायल

0
81

महाराष्ट्र के अकोला जिले रविवार शाम बड़ा हादसा हो गया. भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण एक मंदिर के टिन शेड पर नीम का एक बड़ा पेड़ गिरने से सात लोगों की मौत हो गई, जबकि कम से कम 30 अन्य घायल हो गए. रविवार देर शाम महाराष्ट्र के अकोला जिले में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई. इस दौरान अकोला जिले की बालापुर तहसील के पारस गांव में बाबूजी महाराज के मंदिर संस्थान में एक पुराना नीम का पेड़ उखड़कर टीन शेड के ऊपर गिर गया. उस समय कई सारे लोगों ने बारिश के चलते शेड के नीचे शेल्टर लिया था.

सूचना मिलते ही स्थानीय ग्रामीण भागकर मौके पर पहुंचे और नीचे फंसे लोगों को निकालना शुरू किया. ग्रामीणों ने प्रशासन को भी सूचना दी जिसके बाद पुलिस दल और एंबुलेंस मौके पर पहुंच गए और बचाव कार्य में मदद की. टूटे हुए पेड़ और गिरे हुए शेड को उठाने के लिए जेसीबी मशीनों को लगाया गया. अकोला की कलेक्टर नीमा अरोड़ा ने बताया कि पेड़ गिरने से 7 लोगों की मौत हुई है जबकि 30-40 लोग घायल हुए हैं. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

कलेक्टर ने बताया कि हादसे के समय शेड के नीचे करीब 40 लोग मौजूद थे. 36 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जबकि 4 लोगों की अस्पताल पहुंचने के पहले ही मौत हो चुकी थी. बाद में मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 7 हो गया. एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल है.

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने हादसे पर दुख जताते हुए मृतकों को श्रद्धांजलि दी. उन्होंने ट्वीट कर कहा, यह बताना दुखद है कि अकोला जिले के पारस में एक धार्मिक समारोह के दौरान टिन शेड पर एक पेड़ गिरने से कुछ श्रद्धालुओं की मौत हो गई. उन्होंने आगे लिखा, कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक तत्काल घटनास्थल का दौरा कर घायलों का समय पर उपचार सुनिश्चित कराने के लिए कोऑर्डिनेट कर रहे हैं. हम लगातार उनके संपर्क में हैं.