अफगानिस्तान पर कब्जा करने के बाद काबुल पहुंचा तालिबान कमांडर, पूरे 20 सालों के बाद…

0
46

तालिबान पूरी तरह से अफगानिस्तान पर काबिज हो चुका है। जिसके बाद तालिबान ने अफगानिस्तान में अपनी हुकूमत का एलान भी कर दिया है। माना जा रहा है कि तालिबान अपने सह संस्थापक औऱ शीर्ष कमांडर मुल्ला अब्दुल गनी बरादर (Taliban Commander Mullah Baradar) को ही अफगानिस्तान का नया राष्ट्रपति (President of Afghanistan) बना सकता है। बता दें कि मंगलवार को पूरे 20 साल बाद मुल्ला अब्दुल गनी बिरादर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल (kabul) पहुंचा है। बताते चलें कि काबुल में विमान के उतरने के बाद तालिबान के कई नेताओं ने अब्दुल गनी का जोरों शोरों से स्वागत किया।

राजधानी काबुल से एक वीडियो सामने आया है। जिसमें साफ देखा जा सकता है कि काबुल में मुल्ला अब्दुल गनी का स्वागत किस तरह किया जा रहा है। बता दें कि तालिबान की इस जीत में मुल्ला अब्दुल गनी की काफी अहम भूमिका रही। बता दें कि साल 1990 में मुल्ला अब्दुल गनी अपने साथी उमर के साथ मिलकर तालिबान की स्थापना की थी। जानकारी के मुताबिक तालिबान के नेताओं के अलावा पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई और अब्दुल्ला अब्दुल्ला के साथ उनकी बैठक होनी है और इस बैठक के बाद मुल्ला अब्दुल गनी देश का नया राष्ट्रपति बनाया जा सकता है।

बता दें कि 9/11 के बाद अमेरिका ने तालिबान के खिलाफ हमला बोला था। जिसमें तालिबान के कुछ नेताओं समेत मुल्ला अब्दुल गनी भी फरार होने में सफल हो गया था। लेकिन साल 2010 में अब्दुल गनी बरादर को पाकिस्तान के कराची में गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन, डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश और तालिबान के साथ डील होने के बाद पाकिस्तान ने इसे 2018 में रिहा कर दिया था।