उत्तराखंड : बद्रीनाथ धाम में क्या जानबूझकर लगाए थे ‘कमल’ के फूल, कांग्रेस ने उठाये सवाल

0
100

देहरादून: चारधाम यात्रा बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने के साथ ही चार धाम यात्रा भी समाप्त हो गई है। सबसे आखिर में कल 19 नवंबर को बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद हुए। कपाट बंद होने के बाद अब धाम के कपाट के दिन हुए एक वाकए की खूब चर्चा हो रही है। इसको लेकर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने आ गए हैं।

दरअसल, कपाट बंद होने के दौरा धाम की सजावट की गई थी। उसमें मुख्य द्वार के दोनों ओर कमल के फूल बनाए गए थे। सोशल मीडिया में इसको लेकर अब नई बहस छिड़ गई है। लोगों का कहना है कि भाजपा के चुनाव चिन्ह को यहां जानबूझकर लगाया गया था। कांग्रेस ने भी भाजपा पर निशाना साधा है।

धाम के कपाट बंद होने के मौके पर पूरे मंदिर परिसर को गेंदे के फूलों से भव्य तरीके से सजाया गया था। इस सजावट में मुख्य द्वार के दोनों तरफ कमल के फूलों के कटआउट ने सबका ध्यान खींचा।

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने इसे भाजपा के चुनाव चिन्ह कमल से जोड़ते हुए इस पर गंभीर सवाल उठाए हैं। इन दिनों गुजरात में चुनाव चल रहे हैं। साथ ही दिल्ली में भी एमसीडी चुनाव को लेकर घमासान मचा हुआ है।

ऐसे में कांग्रेस ने इसे भाजपा की सोची समझी साजिश बताया है। वहीं, बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में नहीं है।