उत्तराखंड: और…कितने घोटालेबाज, पुलिस से कोर्ट तक के कर्मचारी शामिल

0
110

देहरादून: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक मामले में अब लोग सवाल कर रहे हैं कि आखिर एक भर्ती परीक्षा के कितने घोटालेबाज हैं। अब तक इस मामले में 12 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस सिपाही पहले ही एसटीएफ के हत्थे चढ़ चुका है।

अब एसटीएफ ने सीजेएम कोर्ट नैनीताल के एक कर्मचारी को भी इस मामले में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपित महेन्द्र चौहान न्यायालय सीजेएम कोर्ट नैनीताल में कनिष्ठ सहायक के पद पर तैनात था। महेन्द्र सिंह पूर्व में गिरफ्तार बर्खास्त पीआरडी जवान मनोज जोशी का परिचित है। ऐसे में महेन्द्र ने मनोज जोशी से पेपर लेकर एसपी काशीपुर के गनर अंबरीश कुमार को उपलब्ध कराया था।

एसटीएफ अब तक 12 आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है। बता दें कि आयोग की ओर से 4-5 दिसम्बर 2021 को स्नातक स्तर के विभिन्न 13 विभागों में भर्ती परीक्षा करवाई गई थी, जिसका पेपर लीक (न्ज्ञैैैब् च्ंचमत स्मंा) हो गया था।