त्रिदिवसीय ‘मुंबई उत्तराखंड महोत्सव’ धूमधाम से संपन्न

0
361

गढ़वाल भ्रातृ मंडल , मुंबई द्वारा आयोजित त्रिदिवसीय ‘ मुंबई उत्तराखंड महोत्सव – 2019 ‘ बोरीवली में चीकू वाड़ी स्थित प्रमोद महाजन स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में धूम धाम से संपन्न हो गया । महोत्सव का शुभारंभ नवी मुंबई में बेला पुर स्थित नंदा देवी मंदिर से कलश यात्रा से हुआ । बेलापुर से निकलकर मुंबई के कई स्थलों से गुजरते हुए ‘ मां नंदा देवी की डोली कलश यात्रा सहित चारकोप स्थित ओंकारेश्वर मंदिर पहुंची । पंडित जयानंद सेमवाल जी के द्वारा डोली की पूजा अर्चना करने के पश्चात धर्मानंद रतूड़ी व अवतार नेगी के नेतृत्व में लगभग 50 भजन मंडलियों के साथ कलश यात्रा ने आयोजन स्थल की ओर प्रस्थान किया ।

प्रथम दिन 20 दिसम्बर को ‘ सुरीली कंठी ‘ उत्तराखंडी लोकगीत गायन प्रतियोगिता और लोक नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें प्रवासी उत्तराखण्डी गायक व संस्थाओं ने बढ़ चढ़कर कर हिस्सा लिया । प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में प्रसिद्ध अभिनेता , लेखक , निर्माता , निर्देशक और एक्टिंग गुरु दान सिंह राजपूत , सुप्रसिद्ध उत्तराखण्डी लोक गायक देवकी नंदन कांडपाल व कॉरपरेट लॉयर , पूर्व पत्रकार और कला समीक्षक सरोज ममगाईं थपलियाल का समावेश था ।सुप्रसिद्ध मुंबईकर उत्तराखण्डी गायक बी. के. सावंत के थलकी बाज़ार गीत पर सारा जनसमूह थिरक उठा । टेलिविजनऔर दक्षिण भारतीय भाषओं की सुप्रसिद्ध अभिनेत्री स्वास्ति सेमवाल कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण रही ।

उत्तराखंड के कृषि मंत्री माननीय सुबोध उनियाल व उत्तराखंड आर्गेनिक कमोडिटी बोर्ड के मैनेजिंग डायरेक्टर विनय कुमार इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे ।उनियाल जी ने उत्तराखंड से पलायन पर अपने विचार रखे । व सभी प्रवासियों को साल में कम से कम एक बार अपने गांव आने का अनुरोध किया । मुंबई उत्तराखंड महोत्सव का दूसरा दिन 21 दिसंबर 2019 , उत्तराखण्डी सुर सम्राट गढ़ रत्न नरेंद्र सिंह नेगीजी के नाम रहा । नेगीजी के प्रवासी उत्तराखण्डी भै बैणौ व सुरमा सरैली जैसे गीतों ने शमां बांध दिया । सुप्रसिद्ध लोक गायिका अनुराधा निराला ने नेगी जी के साथ ‘ कु होलो डांडियों मां ‘ , नयु नयु ब्योच ‘ गीत गाकर रंग जमा दिया । अनिल बिष्ट ने ‘ हुंगरा लगांदी भगयानी , ए जा रे भानुमति पाबौ बाजार , । चैता की चैत्वली ‘ जैसे गीतों पर मुंबईकर उत्तराखण्डी झूम उठे ।

इस अवसर पर उत्तराखंड के विद्यायक मुकेश कोली व महंत दलीप रावत प्रमुख अथिति के रूप में उपस्थित थे । मुंबई उत्तराखंड महोत्सव के तीसरे दिन महाराष्ट्र के राज्यपाल महमामहिम श्री भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्य अथिति के रूप में उपस्थित रहकर गढ़वाल भ्रातृ मंडल , मुंबई के स्वर्णिम इतिहास में एक और स्वर्ण पृष्ठ जोड़ दिया ।इस अवसर पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार व प्रसिद्ध उद्योग पति एवम समाज सेवक डॉ. कुंवर सिंह पंवार को राज्यपाल महोदय द्वारा , गढ़वाल भ्रातृ मंडल द्वारा प्रदत्त प्रतिष्टित पुरस्कार ‘ गढ़ रत्न ‘ पुरस्कार से सम्मानित किया गया । इस अवसर पर व्यास पीठ पर स्थानीय सांसद गोपाल शेट्टी व स्थानीय विधायक सुनील राणे भी उपस्थित थे । मंडल के अध्यक्ष भगत सिंह बिष्ट ने शॉल श्रीफल व सम्मान चिन्ह देकर राज्यपाल आदरणीय कोश्यारी जी को सभी मुंबई कर उत्तराखंडियों की ओर से सम्मानित किया गया । महासचिव रमण मोहन कुकरेती ने मंडल के 91 वर्षों के इतिहास व गतिविधियों पर प्रकाश डाला ।अधिवक्ता ममता भट्ट ने डॉ. पंवार की उपलब्धियों को सभी के समक्ष पढ़ा । मदन मोहन गोस्वामी ने सभी उपस्थितों का आभार व्यक्त किया । राज्य पाल जी का किसी उत्तराखण्डी समाज में यह पहला सार्वजनिक कार्यक्रम था ।

तीसरे अर्थात 22दिसंबर 2019 को उत्तराखण्डी युवाओं को उत्तराखण्डी गीत संगीत से लुभाने वाली यू ट्यूब सनसनी प्रियंका मेहर के गानों व साथ में रैपर रोंगपाज के रैप पर मुंबई का विशाल युवा वर्ग को झूम उठा । कुल मिलाकर प्रियंका मेहर और उनके बैंड का मुंबई में पहला परफोर्मेंस धमाकेदार रहा । वहीं मिस इंडिया वर्ल्ड वाइड टनिष्क शर्मा की उपस्थिति ने महोत्सव में ग्लैमर का तड़का लगा दिया । कुमांऊ अंचल से आये कुमाउँनी छैल छबीली सांस्कृतिक संस्था के लोक कलाकारों ने ‘ मुंबई उत्तराखंड महोत्सव ‘ के दौरान अपने छोलिया नृत्य द्वारा सभी मुंबईकरों का मन मोह लिया ।

इस महोत्सव में अमरजीत मिश्र ,बहादुर सिंह बिष्ट संध्या दोशी , हरि मृदुल , सुरेखा पाटिल , भीम सिंह राठौर , पूर्ण चंद्र बलोदी , डॉ. श्रीधर थपलियाल , सोहित उनियाल , विकास जोशी , हरीश डबराल , डॉ. राजेश्वर उनियाल , महेश भट्ट , वीरेंद्र नेगी , जया बिष्ट , भूपेश गौनियाल माधवानंद भट्ट , मोहन काला , विनीत बिष्ट , दीपक डोभाल , गिरवर नेगी , वीरेंद्र बडोनी , हीरा सिंह भाकुनी , अविनाश पोखरियाल , ललित बिष्ट , शंकर सिंह रावत , हयात सिंह राजपूत , बलबीर नेगी आदि गण्यमान्य विशेष रूप से उपस्थित थे । आयोजन को सफल बनाने में मनोज सती , दिपक जोशी , प्रदीप रावत , मनीज द्विवेदी , राजेश बड़थ्वाल , राम सिंह घटाल ,जमन सिंह बिष्ट , दर्शन डोभाल , अधिवक्ता आशुतोष रतूड़ी , विनोद भारद्वाज , शुकदेव शर्मा , बीरेंद्र पुंडीर , बीरेंद्र गुसाईं , गणेश नौटियाल , मेड्डी रावत , जयकृत नेगी , महेंद्र परिहार , धनंजय रावत , काफल फाउंडेशन , उत्तराखण्डी दगड़ियों ग्रुप आदि का विशेष योगदान रहा । मंडल के अध्यक्ष भगत सिंह बिष्ट , उपाध्यक्ष दयाराम सती महासचिव रमण मोहन कुकरेती ,कोषाध्यक्ष दयानंद शर्मा ने इस सफल आयोजन के लिए सभी का आभार व्यक्त किया ।