दिल्ली के शाहीनबाग में चल रहे ध’रना प्रद’र्शन के खि’लाफ दा’खिल याचिकाओं पर सोमवार को होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

0
145

नागरिकता संशोधन अधिनियम के ख़ि’लाफ़ चल रहे प्रद’र्शन को ह’टाने के लिए पार्टी के नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट को दी याचिका में कहा है कि लंबे समय से शाहीनबाग में चल रहे ध’रने से लोगों को बेहद परे’शानी हो रही है।

इसी पर सुप्रीम कोर्ट ने मतदान से एक दिन पहले सुनवाई की और कहा कि हम इस मामले में चिं’ता है लेकिन इसकी सुनाई सोमवार को की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के कार’ण सुनवाई को टा’ला जा रहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि इस मा’मले को वह दोबारा हाई कोर्ट में भेजने के बारे में सोच रहे हैं। इसपर वकीलों ने कहा था कि ध’रने को 55 दिन हो चुके हैं। और सोमवार तक तो चुनाव ख’त्म हो जाएंगे। कोर्ट ने कहा कि इसलिए हम सुनवाई टा’ल रहे हैं, सोमवार को आइए।

सभी नेताओं ने याचिकाओं के द्वा’रा सुप्रीम कोर्ट से अलग अलग मां’गे की। बीजेपी नेता और पूर्व विधायक नंदकिशोर गर्ग ने याचिका दाखिल कर शाहीन बाग ध’रने को ह’टाने के अलावा गाइडलाइन बनाने की मांग की है। वहीं वकील अमित साहनी ने भी सुप्रीम कोर्ट याचिका दा’खिल कर मांग की है कि शाहीनबाग में प्रद’र्शन करने को ह’टाया जाए ताकि कालिंदी कुंज और शाहीनबाग का रास्ता फिर से खुल सके।

साथ ही अमित साहनी यह भी मांग की कि कोर्ट दिल्ली पुलिस को निर्देश दे कि वहां मौजूद राजनेताओं, आयोजकों और समर्थकों की गतिविधियों पर नजर रखे। खासकर के वहां होने वाले भाष’णों व गतिविधियों पर नजर रखी जाए कि क्या उनके जरिये कानून व्यवस्था की स्थिति खरा’ब तो नहीं हो रही है ताकि देश’द्रोही संगठन इस संजीदा स्थिति का फायदा न उठा पाए।