Home Blog

FIFA वर्ल्ड कप में ऐसा गोल आपने कभी नहीं देखा होगा… VIDEO

0

FIFA वर्ल्ड कप 2022 में रविवार को मोरक्को ने बड़ा उलटफेर करते हुए दुनिया को दंग कर दिया। दुनिया में 22वें नंबर की टीम मोरक्को ने वर्ल्ड नंबर 2 बेल्जियम को रौंदकर इतिहास रचा। मोरक्को के फुटबॉलर अब्देलहामिद साबिरी और जकारिया अबुखलाल ने बड़ा धमाका किया और दो गोल दागकर इस बड़े उलटफेर को अंजाम दे दिया।

अल थुमामा स्टेडियम, कतर में एफ ग्रुप के इस मैच में बेल्जियम की करारी हार देख फुटबॉल फैंस हैरान है। इस मुकाबले में अब्देलहामिद साबिरी ने ​फ्री किक से शानदार गोल का ऐसा नजारा दिखाया कि जिसने भी देखा उसने दांतो तले अंगुली दबा ली।

 

ये शानदार गोल 73वें मिनट में देखने को मिला। जैसे ही साबिरी को बॉल मिली, उन्होंने कॉर्नर से ऐसा धमाकेदार कर्लिंग गोल मारा कि बेल्जियम का गोलकीपर पूरी तरह बीट हो गया।

ये गोल इतना खतरनाक था कि गोलकीपर के शानदार डाइव के बावजूद वह बॉल को नेट में जाने से नहीं रोक पाया। इस वर्ल्ड कप में यह पहला गोल था जो फ्री किक से सीधे नेट में दागा गया। साबिरी ने पहला गोल कर मोरक्को को पहली बढ़त दिलाई।

 

10 मिनट के लिए सौंप दो आफताब, कर देंगे 70 टुकड़े’ बोले तलवारों से लैस हमलावर

0

श्रद्धा वालकर की हत्या करने वाले आफताब पूनावाला हमले के दौरान हिंदू सेना के कार्यकर्ता दस मिनट के लिए आफताब को उन्हें सौंपने की मांग कर रहे थे।

उनका कहना था कि आफताब ने उनकी बहन श्रद्धा के 35 टुकड़े किए थे, अब वह उसके 70 टुकड़े कर देंगे। उनसे जब पूछा गया कि तलवार कहां से लेकर आए तो उन्होंने बताया कि वह एक गुरुद्वारे से तलवारें लेकर आए हैं। तलवारें ही नहीं, वह बंदूकें भी लाएंगे।

आफताब अमीन पूनावाला को लेकर जा रही पुलिस वैन पर सोमवार शाम को तलवारों से लैस लोगों द्वारा हमला किया जाना पुलिस की बड़ी विफलता मानी जा रही है। हमलावर एफएसएल लैब के बाहर हमले के लिए दिनभर घात लगाए टहलते रहे, लेकिन पुलिस के खुफिया तंत्र को इसकी भनक तक नहीं लगी।

 

उत्तराखंड: आज से होगा विधानसभा का सत्र, हंगामेदार रहने के आसार

0

देहरादून: विधानसभा का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो जाएगा। सत्र के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। पांच दिसंबर तक चलने वाले सत्र में कानून व्यवस्था से जुड़े अंकिता हत्याकांड और केदार भंडारी प्रकरण के अलावा UKSSSC परीक्षा घोटाले पर हंगामा होने के आसार हैं।

 

कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में एक दिन का एजेंडा तय कर दिया गया है। सरकार पहले ही दिन अनुपूरक बजट पेश करेगी। अनुपूरक बजट के 4867 करोड़ रुपये के होने का अनुमान है। सत्र के लिए विधानसभा के पास अब तक छह विधेयक पहुंचे हैं।

 

कांग्रेस विधायक अनुपमा रावत भी उत्तराखंड राज्य आंदोलन के चिह्नित आंदोलनकारियों व उनके आश्रितों को राजकीय सेवा में 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण के लिए असरकारी विधेयक (प्राइवेट बिल) लेकर आएंगी।

 

अंकिता भंडारी हत्याकांड के मामले में सदन के भीतर और बाहर हंगामा होने के आसार हैं। इस मुद्दे पर विपक्ष के तेवर काफी तल्ख दिखाई दे रहे हैं। कांग्रेस सवाल उठा रही है कि वह VIP कौन है, जिससे अंकिता की मुलाकात कराई जानी थी। विपक्ष इसकी सीबीआई जांच चाहता है।

NIA की UP समेत कई राज्यों में ताबड़तोड़ छापेमारी

0

उत्तर प्रदेश, पंजाब और दिल्ली समेत कई राज्यों में छापेमारी की। समाचार एजेंसी एएनआइ ने अपने सूत्रों के हवाले से बताया कि गैंगस्टर के ठिकानों का भंडाफोड़ करने के लिए एनआइए ने मंगलवार सुबह दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, हरियाणा और यूपी के कई ठिकानों पर छापेमारी की है।

भारत और विदेशों में स्थित आतंकियों, गैंगस्टरों और ड्रग तस्करों के बीच बढ़ रही सांठगांठ को खत्म करने के उद्देश्य से एनआइए ने दिल्ली समेत चार राज्यों के छह से अधिक जिलों में छापेमारी की। एनआइए की यह छापेमारी गैंगस्टरों से जुड़े आवासीय और अन्य परिसरों में की जा रही है।

 

उत्तराखंड: पहाड़ी जिलों में नौकरी करने वाले मेडिकल फैकल्टी के लिए खास स्कीम

0
  • पर्वतीय जनपदों में मेडिकल फैकल्टी को मिलेगा 50 प्रतिशत अतिरिक्त भत्ता।
  • विभागीय मंत्री के अनुमोदन के बाद शासन ने जारी किया शासनादेश।
  • नियमित एवं संविदा दोनों प्रकार की फैकल्टी को मिलेगा अतिरिक्त भत्ते का लाभ।

देहरादून : राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में स्थापित राजकीय मेडिकल कॉलेजों में अब नियमित एवं संविदा पर तैनात फैकल्टी को वेतन के अतिरिक्त 50 प्रतिशत भत्ता दिया जायेगा। सरकार के इस निर्णय से जहां एक ओर पर्वतीय जनपदों के मेडिकल कॉलेजों को पर्याप्त फैकल्टी मिल पायेगी वहीं विशेषज्ञ चिकित्सक भी मेडिकल कॉलेजों में अपनी सेवाएं देने के लिए आसानी से उपलब्ध हो पायेंगे।

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने बताया कि काफी प्रयासों के बावजूद पर्वतीय क्षेत्रों में स्थित मेडिकल कॉलेजों में प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर व असिस्टेन्ट प्रोफेसर अपनी सेवाएं देने के लिए उपलब्ध नहीं हो पा रहे थे जिसका एक कारण कम वेतनमान एवं पर्याप्त सुविधाएं न मिल पाना सामने आया था जिसको देखते हुए राज्य सरकार ने पर्वतीय क्षेत्रों में तैनात नियमित एवं संविदा दोनों ही श्रेणी के फैकल्टी को मेडिकल टीचर्स डेफिसेन्सी कम्पनसेटरी स्कीम के अंतर्गत 50 प्रतिशत अतिरिक्त भत्ता देने का निर्णय लिया। डॉ रावत ने बताया कि वर्तमान में यह अतिरिक्त भत्ता पर्वतीय क्षेत्रों में स्थापित राजकीय मेडिकल कॉलेज, श्रीनगर तथा राजकीय मेडिकल कॉलेज, अल्मोड़ा में लागू होगा तथा भविष्य में पर्वतीय क्षेत्रों में स्थापित किये जाने वाले सभी राजकीय मेडिकल कॉलेजों में तैनात संकाय सदस्यों, प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर तथा असिस्टेन्ट प्रोफेसर को भी उक्त भत्ता देय होगा। उन्होंने बताया कि इस अतिरिक्त भत्ते के भुगतान हेतु एक कॉरपस फण्ड बनाया जायेगा जिसका संचालन संबंधित कॉलेज के प्राचार्य द्वारा किया जायेगा। संकाय सदस्यों को मिलने वाला 50 प्रतिशत अतिरिक्त भत्ता फैकल्टी के पे स्लिप पर अंकित नहीं होगा।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ रावत ने कहा कि काफी प्रयासों के बावजूद राजकीय मेडिकल कॉलेज, श्रीनगर तथा अल्मोड़ा में पर्याप्त फैकल्टी नहीं मिल पा रही थी लेकिन राज्य सरकार द्वारा 50 प्रतिशत अतिरिक्त भत्ते की स्वीकृति के बाद इस प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

 

 

 

श्रद्धा जैसा एक और मर्डर: मां-बेटा मिलकर रोज ठिकाने लगाते थे शव के टुकड़े

0

दिल्ली: दिल्ली में श्रद्धा जैसा ही एक और हत्याकांड सामने आया है। मां-बेटे ने मिलकर रोजाना शव के टुटड़े-टुकड़े कर जंगल में ठिकाने लगा दिया। बीते मई माह में दिल्ली के पांडव नगर स्थित रामलीला ग्राउंड और नाले में कई मानव अंग मिलने के मामले में दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने मां और बेटे को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपितों के नाम पूनम और दीपक हैं। पुलिस के मुताबिक, ये मानव अंग अंजन दास के थे। दरअसल, आरोपित पूनम जहां अंजन दास की पत्नी है तो दीपक सौतेला बेटा है। दोनों पर अंजन की हत्या का आरोप है।

अंजन दास के कई महिलाओं से अवैध संबंध थे। उसे शराब में नशे की गोलियां मिलाकर पिलाई गई थी, उसके बाद हत्या कर चाकू से शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर कई जगह फेंक दिया गया था। जानकारी के मुताबिक, पूनम ने भी कई शादियां की थी।

पुलिस जांच में गत 30 मई को मानव अंग मिले थे। इस मामले में पुलिस को कुछ सीसीटीवी फुटेज मिले थे, जिसके आधार पर जांच करते हुए छह माह बाद दोनों आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। अब पुलिस अंजन दास का डीएनए प्रोफाइलिंग कराएगी।

 

चीन में विरोध प्रदर्शन की रिपोर्टिंग करने वाला BBC का पत्रकार गिरफ्तार, की गई पिटाई

0

चीन के शंघाई शहर में जीरो कोविड नीति के खिलाफ हुए प्रदर्शनों की रिपोर्टिंग के दौरान पुलिस ने बीबीसी के एक पत्रकार को गिरफ्तार कर लिया। बीबीसी ने इस तरह से अपने पत्रकार को गिरफ्तार किए जाने की कड़े शब्‍दों में निंदा की है।

बीबीसी ने चीन के प्रशासन द्वारा पत्रकार के साथ किए जाने वाले दुर्व्‍यवहार पर भी चिंता जताई है। बीबीसी का कहना है कि उसके पत्रकार को प्रशासन ने उस वक्‍त गिरफ्तार किया जब वो शंघाई में विरोध प्रदर्शन की रिपार्टिंग कर रहा था। उसके हाथों में हथकड़ी पहनाई गई और उसके साथ बदसलूकी की गई।

बीबीसी ने इस घटना के बाबत एक बयान जारी कर इस पूरी घटना पर चिंता जताई है। बीबीसी का आरोप है कि उसके पत्रकार Ed Lawrence को रिपोर्टिंग करने से रोकने के लएि पहले लात मारी और फिर उसकी पिटाई की, बाद में उसको गिरफ्तार कर लिया गया।

अपने पत्रकार के साथ हुए इस तरह के दुर्व्‍यवहार से चिंतित बीबीसी ने कहा है कि उसको पुलिस ने कई घंटों तक अपनी गिरफ्त में रखा और फिर बाद में छोड़ दिया।

 

 

फीफा विश्व कप में मोरक्को से बेल्जियम को मिली हार, पूरे शहर में भड़की हिंसा

0

ब्रसेल्स। कतर में चल रहे फुटबाल विश्व कप मैच में मोरक्को से बेल्जियम की हार के बाद रविवार को बेल्जियम की राजधानी में ब्रसेल्स में कई स्थानों पर दंगे भड़क गए। फुटबाल प्रशंसकों ने कारों को आग के हवाले कर दिया।

न्यूज़ एजेंसी रायटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय पुलिस ने दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया है, जो दंगा नियंत्रण पुलिस के साथ भिड़ गए थे। दंगे ब्रसेल्स में कई जगहों पर देखने को मिले, जिन्हें शांत कराने में पुलिस को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

 

दंगों पर पुलिस प्रवक्ता इलसे वान डी कीरे ने बताया कि शाम करीब सात बजे शांति लौटी और संबंधित क्षेत्रों में एहतियाती गश्त जारी है। फिलहाल पुलिस लगातार शरारती तत्वों पर नजर रख रही है, जो एक बार फिर शहर में अशांति का माहौल बना सकते हैं। वहीं हिरासत में लिए गए लोगों से पुलिस की एक टीम पूछताछ कर रही है, जिससे दंगों का स्पष्ट कारण और साजिशकर्ता का पता लगाया जा सके।

मदरसों में भी आठवीं कक्षा तक नहीं मिलेगी छात्रवृत्ति, केंद्र सरकार ने जारी किया आदेश

0

उत्तर प्रदेश के मदरसों में कक्षा एक से आठ तक में पढ़ने वाले छात्रों को शैक्षिक सत्र 2022-23 से छात्रवृत्ति नहीं दी जाएगी। केंद्र सरकार की ओर से इस बारे में निर्देश जारी कर दिये गए हैं।

पिछले वर्ष मदरसों में पढ़ने वाले आठवीं कक्षा तक के लगभग छह लाख छात्रों को छात्रवृत्ति मिली थी। कक्षा एक से पांच तक के विद्यार्थियों को एक वर्ष में एक हजार रुपये दिए जाते हैं, जबकि छठवीं से आठवीं तक के लिए छात्रवृत्ति की राशि अलग-अलग है।

केंद्र सरकार ने कहा है कि निश्शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत पहली से लेकर आठवीं कक्षा तक की पढ़ाई मुफ्त कर दी गई है। इसलिए आठवीं कक्षा तक के बच्चों को छात्रवृत्ति देने का औचित्य नहीं है। अब प्री-मैट्रिक स्कालरशिप सिर्फ कक्षा नौ और 10 के पात्र विद्यार्थियों को मिलेगी।

 

गौरतलब है कि मदरसों में कक्षा एक से आठ तक के छात्रों को बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों की तरह दोपहर का भोजन, यूनिफार्म, किताबें मुफ्त दी जाती हैं। पहले परिषदीय विद्यालयों के आठवीं कक्षा तक के छात्रों को भी छात्रवृत्ति मिलती थी लेकिन शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत आठवीं तक की शिक्षा निश्शुल्क किये जाने के बाद इसे कुछ वर्ष पूर्व बंद कर दिया गया था।

सलमान खान 30 साल बाद इस एक्ट्रेस के साथ शेयर करेंगे स्क्रीन स्पेस, फिल्म में दिखेगी जोड़ी

0

सलमान खान और रेवती की फिल्म ‘लव’ को रिलीज हुए 30 साल बीत चुके हैं। इन दोनों एक्टर्स ने सिल्वर स्क्रीन पर प्यार का वो जादू बिखेरा, जिसे देखना आज भी दर्शक पसंद करते हैं। फिल्म का गाना ‘साथिया तूने क्या किया’ आज भी रोमांटिक सॉन्ग्स की लिस्ट में टॉप पर शामिल है।

हालांकि, इस फिल्म के बाद दोबारा कभी सलमान और रेवती की सिजलिंग केमेस्ट्री देखने को नहीं मिली। लेकिन 30 साल बाद यह जोड़ी सिल्वर स्क्रीन पर फिर से अपना जादू बिखेरने के लिए तैयार है।

सलमान खान की फिल्म ‘टाइगर 3’ पिछले कुछ समय से चर्चा में है। फिल्म के दो पार्ट्स को दर्शकों का बेशुमार प्यार मिला था। पहला पार्ट (एक था टाइगर) 10 साल पहले 2012 में रिलीज हुआ था। वहीं, दूसरे पार्ट ‘टाइगर जिंदा है’ को 2017 में रिलीज की गई थी। दोनों ही फिल्मों की कहानी को दर्शकों ने बहुत पसंद किया था।

फिल्म की लोकप्रियता को देखते हुए मेकर्स ने तीसरे पार्ट को बनाने की घोषणा की, जो कि 2023 में रिलीज होगा। ‘टाइगर 3’ की स्टार कास्ट को लेकर अब तक बहुत सारे नाम सामने आ चुके हैं। वहीं, लेटेस्ट में एक और नाम सामने आया है, जिसका खुलासा खुद सलमान खान ने किया है।

 

लोकप्रिय खबरे