इस तरह हुआ PMC बैंक घोटाला, सोच-समझ कर की गई…

0
329

पीएमसी बैंक का घोटाला एक सोची-समझी साज़िश का नतीजा है। जिसका अब जाकर ख़ुलासा हुआ है। प्राप्त ख़बरों के अनुसार इस बड़े घोटाले के खेल के सबसे बड़े खिलाड़ी मुख्य आरोपियों में से एक पीएमसी बैंक का पूर्व एमडी जॉय थामस है। ख़बर है कि पूर्व एमडी जॉय थामस ने यह खेल 2012 से ही रचना शुरू कर दिया था। ख़बर है कि पीएमसी बैंक के पूर्व एमडी जॉय थामस ने 2012 से कोंडवा और पुणे शहर में 9 फ्लैट और एक दुकान खरीदी थी।

उल्लेखनीय है कि इन संपत्तियों को जॉय थामस ने अपनी दूसरी पत्नी के साथ मिलकर ख़रीदा था। सूत्रों के प्राप्त ख़बर के अनुसार पीएमसी बैंक के पूर्व एमडी जॉय थॉमस ने दूसरी शादी अपनी असिस्टेंट से की थी। और उसके बाद थामस ने इस्लाम धर्म अपना लिया था। और अब अपना नाम बदलकर उन्होंने जुनैद ख़ान कर लिया है। ग़ौरतलब है कि पुणे में ज़्यादातर सम्पत्तियां थामस के बदले हुए नाम जुनैद ख़ान और उसकी पत्नी के भी बदले हुए नाम के साथ ख़रीदी गई हैं,ऐसा पता चला है.

बता दें कि आर्थिक अपराध शाखा ने मामले की जांच करते हुए पाया है कि ख़रीदी गई सभी संपत्तियां 2012 से शुरू होने वाली अवधि के अंदर खरीदी गई थीं। और यह ठीक उसी समय हुआ जब एचडीआईएल के आरोपी राकेश और सारंग वधावन ने लोन वापस लौटाना बंद करके एक्स्ट्रा अमाउंट उधार लेना शुरू कर दिया था। उल्लेखनीय है कि, इन संपत्तियों को ख़रीदने के लिए आय के स्त्रोत जिससे की संपत्तियां कथित जुनैद ख़ान और उसकी दूसरी पत्नी ने ख़रीदी थीं, उसके बारे में जांच की जा रही है।