मुंबई के जेजे अस्पताल के डॉक्टर कल्याण मुंडे ने किया चमत्कार, एक अनोखी सर्जरी कर बचाई बच्चे की जान…

0
46

दुनिया में वैसे तो कोई चमत्कार देखने को मिलते हैं। लेकिन कुछ चमत्कार ऐसे होते हैं जो इंसान खुद करता है। ऐसा ही एक चमत्कार मुंबई के जेजे अस्पताल (JJ Hospital) में देखने को मिला। मुंबई के जेजे अस्पताल के एक डॉक्टर ने सिर्फ 2 महीने के बच्चे की अनोखी सर्जरी कर सबको हैरान कर दिया है। ये अनोखी सर्जरी लोगों के लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है। बता दें कि अस्पताल में एक केस आया जिसमें 2 महीने के बच्चे के हृदय में छेद था। जिसको सर्जरी से बंद कर डॉक्टर ने कमाल कर दिया है। ये चमत्कार करने वाले डॉक्टर का नाम कल्याण मुंडे है।

बता दें कि ऐसे केस में ओपन हार्ट सर्जरी की जाती है। लेकिन बच्चे की कम उम्र और वजन होने के कारण ओपन हार्ट सर्जरी करना लगभग नामुमकिन है। ओपन हार्ट सर्जरी के लिए कम से कम 10 किलो वजन होना जरूरी है। लेकिन हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर कल्याण मुंडे ने पैर की बड़ी नस के जरिए कैथेटर डालकर हार्ट का छेद बंद कर दिया और बिना किसी खतरे के बच्चे की जान बचा ली। जानकारी के मुताबिक इस तरह का ये भारत में पहला ऑपरेशन है और इसको वीएसडी डिवाइस क्लोजर के नाम से जाना जाता है।

जब इस बारे में डॉक्टर मुंडे से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि “ज्यादातर मामलों में बच्चे की उम्र और वजन बढ़ने का इंतजार किया जाता है लेकिन इस केस में बच्चे की तबीयत एकदम खराब हो रही थी। उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। वह ना तो दूध पी पा रहा था और न ही सो पा रहा था। ऐसे में ओपन हार्ट सर्जरी या कैथेटराइजेशन की प्रक्रिया में से एक ऑपरेशन जरूरी था लेकिन इतने छोटे और कम उम्र के बच्चे की ओपन हार्ट सर्जरी करने के लिए कोई तैयार नहीं होता है। इसलिए एक ही उपाय था VSD डिवाइस क्लोजर जिसमें बच्चे के पैर की बड़ी नस से उसके ह्रदय तक पहुँचते हैं और कैथेटर की मदद से उस छेद में एक बटन जैसा डिवाइस डालते हैं, जिससे वो छेद हमेशा के लिए बंद हो जाता है।”