मुख्यमंत्री येडियुरप्पा के खिलाफ भाजपा में फिर शुरू हुई बयानबाजी, मंत्री बोले “हमारे पास मुख्यमंत्री…”

0
159

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा (BS Yediyurappa) द्वारा लगातार निशाना बनाया जा रहा है। बीते कुछ समय से भाजपा के नेताओं द्वारा उनको पद से हटाने की मांग की जा रही है। लेकिन पार्टी ने साफ कह दिया है कि सीएम येडियुरप्पा अपने पद पर बरकरार रहेंगे। बता दें कि भाजपा के नेता लगातार सीएम के खिलाफ आरोप लगा रहे हैं और उनके पद से इस्तीफा देने को कह रहे हैं। सोमवार को सामने आए बयान में वरिष्ठ विधायक बासनगौड़ा पाटिल यतनाल ने कहा कि येडियुरप्पा का पद पर बने रहना राज्य के लिए खतरे की बात है। उन्होंने कहा कि राज्य में बदलाव की जरूरत है।

उनकी बातों से सहमति जताते हुए कर्नाटक के मंत्री सीपी योगेश्वर ने भी येडियुरप्पा के खिलाफ बयान दिया। उन्होंने कहा कि “बदलाव जरूरी है। हम हाथी के बेटे (मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा के बेटे विजयेंद्र) को बस इसलिए हौदा (सीएम पद पर नहीं बैठने ) नहीं ढोने दे सकते क्योंकि उनके पिता ने भी यही काम किया था। हमारे पास हाथियों और बाघों की संख्या सबसे अधिक है (मुख्यमंत्री बनने में सक्षम लोग)। आलाकमान तय करेगा कि कौन सा हाथी पद के लिए अधिक उपयुक्त है। हम कुर्सी का सम्मान करते हैं, व्यक्ति का नहीं।” बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है इससे पहले भी वह सीएम येडियुरप्पा को पद से हटाने की बात कर चुके हैं।

गौरतलब हैं कि इस दौरान विधायक यतनाल ने भी बयान जारी किया था। जिसमें उन्होंने कहा था कि “यदि पार्टी और राज्य को बचाना है तो (मुख्यमंत्री का) बदलाव होना चाहिए। इस बीच उनसे स्वतंत्रता दिवस पर नए मुख्यमंत्री द्वारा राष्ट्र ध्वज फहराने का सवाल पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि “आप 15 अगस्त तक क्यों जाना चाहते हैं? आप तब तक लूटने की अनुमति देना चाहते हैं? यदि यह जारी रहा तो प्रति दिन 100 करोड़ रुपये की लूटी जाएगी। राज्य में नेतृत्व परिवर्तन पर फैसला केंद्रीय नेतृत्व करेगा।” उन्होंने कहा कि “यह स्वाभाविक है कि उम्र, गंभीर आरोपों जैसे कारणों के चलते समय-समय पर बदलाव होते रहेंगे, जिस पर आलाकमान विचार कर रहा है और निश्चित तौर पर राज्य में जल्द ही अच्छी चीजें होंगी।”