फ़ारुक़ अब्दुल्ला ने दी मोदी सरकार को खुली चुनौती

0
187

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को निर्विवाद रूप से पाकिस्तान का हिस्सा बताकर सुर्ख़ियों में छाये जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फ़ारुक़ अब्दुल्ला ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को खुली चुनौती देते हुए कहा कि पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर पर झंडा फहराने की बात करने से पहले श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराकर दिखाए।

पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर को लेकर लगातार विवादित बयान देते रहे फारूख अब्दुल्ला ने कहा था कि पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर का इलाक़ा भारत का हिस्सा कभी नहीं हो सकता। अपने बयान पर सफाई पाश करते हुए उन्होंने कहा कि वो तथ्य बता रहे थे और जो कुछ उन्होंने पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के बारे में कहा, वो ‘सच’ है।

फारुख अब्दुल्ला ने जम्मू में कांग्रेस नेता जीएल डोगरा की 30वीं पुण्यतिथि पर आयोजित समारोह के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा, “अगर आप सच नहीं सुनना चाहते तो भुलावे में ही रहें।”

यह पूछे जाने पर कि क्या वह ऐसी टिप्पणियां करके भारतीयों की संवेदनाएं आहत नहीं कर रहे हैं, अब्दुल्ला ने कहा, ”भारतीय संवेदना क्या होती है? क्या आप यह सोच रहे हैं कि मैं भारतीय नहीं हूं?”

भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं राज्य के उप-मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने अब्दुल्ला पर आरोप लगते हुए कहा कि फारुख अब्दुल्ला और उनकी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस अलगाववादियों और चरमपंथियों को मज़बूत कर रही है। उन्होंने कहा कि लाल चौक सहित राज्य के हर हिस्से में तिरंगा फहराया जा रहा है।