बीजेपी ने राणे को नहीं, प्रसाद लाड को दिया तरजीह

0
428

महाराष्ट्र के कद्दावर नेता नारायण राणे की सियासती गणित फिलहाल गड़बड़ा गई है। बीजेपी को अपरोक्ष रूप से समर्थन देते हुए नारायण राणे ने कांग्रेस को छोड़कर अपनी पार्टी बनाई थी। उनको यह उम्मीद थी कि बीजेपी उन्हें एमएलसी का टिकट देगी लेकिन बीजेपी ने एनसीपी से आए प्रसाद लाड को एमएलसी का टिकट दे दिया है। हालाँकि पार्टी के इस कदम से बीजेपी के खेमे में भी नाराजगी है। सूत्रों के अनुसार रात भर चली मीटिंग के बाद बीजेपी ने राणे की सीट पर प्रसाद लाड को उम्मीदवार बनाया है।

बताया जा रहा है कि राणे का टिकट कटवाने में सबसे अहम भूमिका शिवसेना की रही जिसका राणे खुलेआम विरोध करते रहते हैं। हालांकि पार्टी के नेता इस बात पर कुछ भी बोलने से बच रहे हैं और प्रसाद लाड के समर्थन की बात कर रहे हैं।

बीजेपी की कोशिश है कि इस सीट को निर्विरोध जीता जा सके इसलिए बीजेपी ने अपने नेताओं के बजाय एनसीपी से बीजेपी में आए प्रसाद लाड पर दांव लगाया है जिससे हर पार्टी का समर्थन मिले।

बीजेपी ने साफ कर दिया कि ये सीट उनकी थी ऐसे में राणे उनके मित्र पक्ष हैं और बीजेपी अपनी पार्टी के लोगों को टिकट देगी। दो साल पहले एनसीपी छोड़ बीजेपी में आए प्रसाद लाड को बीजेपी ने इस तर्क पर उम्मीदवार बनाया कि पार्टी अतिथियों का सत्कार करती है।

प्रसाद लाड को टिकट मिलने से बीजेपी के खेमे में दबे मन से नाराजगी भी दिखने लगी है। एमएलएसी के लिए सबसे आगे चल रहे प्रदेश प्रवक्ता माधव भंडारी को निराशा हाथ लगी. मीटिंग के बाद भंडारी रेस से बाहर हो गए।