ब्रिटिश सरकार ने दी ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका कोरोना वैक्सीन को मंजूरी, अब भारत में भी…

0
106

कोरोनावायरस का कहर दुनिया भर में बढ़ता जा रहा है। ऐसे में सबसे ज़्यादा ज़ोर इसकी वैक्सीन बनाने पर दिया जा रहा है। बता दें कि कुछ देशों में इसकी वैक्सीन के ट्रायल चल रहे हैं। इस बीच ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका द्वारा वैक्सीन का निर्माण भी हो चुका है। खबर है कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोरोनावायरस वैक्सीन को लेकर भारत में बड़ा फैसला लिया जा सकता है। उम्मीद है कि भारत में भी इस वैक्सीन को मंजूरी दी जा सकती है।

बता दें कि बढ़ते संकट को देख ब्रिटिश सरकार ने बुधवार को ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका ( Oxford-AstraZeneca Vaccine) के कोविड-19 वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। इसके बाद भारत में भी इस वैक्सीन को मंजूरी मिलने की आशंका जताई जा रही है। भारत में ये वैक्सीन ‘कोविशिल्ड’ के नाम से आएगी। ब्रिटेन में वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद बुधवार को 2 बजे एक विशेषज्ञ समिति (एसईसी) वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (ईयूए) के लिए बैठक करने वाली है।

वैक्सीन को लेकर बातचीत करते हुए ब्रिटिश स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि “सरकार ने आज ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी / एस्ट्राजेनेका के COVID-19 वैक्सीन को अधिकृत करने के लिए मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी (MHRA) की सिफारिश को स्वीकार कर लिया है।” ब्रिटेन ने टीके की करीब 10 करोड़ खुराक के ऑर्डर दिए हैं जिनमें से चार करोड़ खुराक मार्च के अंत तक मिलने की उम्मीद है। इससे पहले सरकार की आपात व्यवस्था को लेकर गठित वैज्ञानिक सलाहकार समूह के सदस्य प्रोफेसर कालम सेम्पल ने कहा कि “टीका लेने वाले व्यक्ति कुछ हफ्तों में वायरस से सुरक्षित हो जााएंगे और यह बहुत महत्वपूर्ण है।”