भाजपा से अलग होने के बाद भी नीतीश ही रहेंगे बिहार के CM, तेजस्वी यादव होंगे…

0
92

नीतीश कुमार के एक ही दांव से भाजपा चारों खाने चित हो गई है। बिहार की सत्ता से तो भाजपा का एग्जिट हुआ ही साथ ही उनकी मुश्किलें भी बढ़ गई। एनडीए के बाद जेडीयू ने सात दलों के ‘महागठबंधन’ के साथ सरकार बनाने का फैसला किया है। खास बात तो ये रही कि इन सभी दलों ने भी नीतीश कुमार की अपना मुख्यमंत्री मान लिया है। इस बार भी नीतीश ही राज्य के मुख्यमंत्री रहेंगे। इसके अलावा राजद के वरिष्ट नेता और लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री पद संभालेंगे। मिली जानकारी के अनुसार दोनों आज ही अपने पद के लिए शपथ लेने वाले हैं।

आज दोपहर तक शपथ ग्रहण समारोह का इंतजाम कर लिया जाएगा। बता दें कि नीतीश कुमार 8वीं बार राज्य के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं। बिहार की जनता से नीतीश को लगातार सपोर्ट मिलता आया है। कल नीतीश के इस्तीफा देने के बाद खबरें सामने आ रही थी कि तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। लेकिन दोनों दलों में हुई एक बैठक के दौरान फैसला कुछ और ही लिया गया। इस फैसले के अनुसार नीतीश कुमार की राज्य के मुख्यमंत्री बने रहेंगे।

जबकि तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री पद को संभालने के लिए तैयार हो गए। आपको बता दें कि बिहार विधानसभा में इस समय 242 सदस्य हैं। ऐसे में जीत का आंकड़ा 122 बनता है। जिसको ‘महागठबंधन’ ने बड़ी ही आसानी से पर कर लिया है। इस समय नीतीश कुमार को 164 विधायकों के समर्थन है। जिससे साफ है कि फिलहाल नीतीश की सरकार को कोई भी खतरा नहीं है।