बढ़ते संकट के बीच सीएम गहलोत का फैसला, न्यू ईयर पर भी नहीं…

0
64

देश में कोरोनावायरस लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में राज्य सरकारों के ऊपर भी ज़िम्मेदारी है कि राज्य में बढ़ते संकट को रोकने के लिए ज़रूरी फैसले ले। राजस्थान में बढ़ते संकट को देख सीएम अशोक गहलोत ने भी कई फैसले लिए हैं। सोमवार को राज्य में बढ़ते कोरोनावायरस को लेकर एक बैठक हुई। इस बैठक में फैसला लिया गया कि राजस्थान में न्यू ईयर के सेलिब्रेशन (New Year Celebrations) पर आतिशबाजी (Fireworks) करने पर रोक लगा दी और सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सख्ती से पालन करने को कहा गया।

इस बैठक के बाद सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट किया कि “निवास पर #COVID19 समीक्षा एवं कोरोना वैक्सीन की तैयारियों से संबंधित बैठक में निर्णय लिया है कि कोरोना महामारी के समय में स्वास्थ्य को सर्वोपरि रखते हुए दीपावली पर सरकार ने जो कदम उठाए थे, उसी प्रकार का सख्त निर्णय नव वर्ष के लिए लेने का फैसला किया है। प्रदेशवासी नए वर्ष का जश्न अपने घर में परिवार के साथ मनाएं। भीड़भाड़ से बचें और आतिशबाजी न करें। यह स्वयं के एवं दूसरों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। सुप्रीम कोर्ट के कोरोना को लेकर सभी राज्यों के लिए जो निर्देश आए हैं राजस्थान उनकी कड़ाई से पालन करेगा।”

इसके बाद उन्होंने कोरोना के नए स्ट्रेन के बारे में बात करते हुए एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि “ब्रिटेन में उभर रहे कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन बहुत चिंता का विषय है। भारत सरकार को तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए। यूके और अन्य यूरोपीय देशों से सभी उड़ानों पर तुरंत प्रतिबंध लगाया जाए। जब कोरोना वायरस फैलने लगा था तो हमें अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने में देर हो गई थी, जिसके कारण मामलों में भारी वृद्धि हुई थी।”