व्हाट्सऐप की नई पॉलिसी पर सुप्रीम कोर्ट का जवाब, लोगों की सुरक्षा के लिए…

0
29

सोशल मीडिया का इस्तेमाल पूरी दुनिया में किया जाता है। ऐसे में लोगों का सबसे पसंदीदा मैसेजिंग ऐप (Messaging app) व्हाट्सऐप है। लेकिन हाल ही में व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी (Privacy policy) को लेकर भारत में बहुत विवाद हुआ था। जिसके बाद भारत के बहुत से व्हाट्सऐप यूजर्स ने इसका इस्तेमाल करना बंद कर दिया। बता दें कि व्हाट्सऐप अपनी नई पॉलिसी के चलते यूजर्स का डेटा फेसबुक से शेयर करता। लेकिन इस बीच उठे विवाद के बाद व्हाट्सएप इसको फिलहाल जारी नहीं किया। नई प्राइवेसी पॉलिसी 8 फरवरी से लागू होने थी।

अब खबर है कि व्हाट्सऐप की प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने भी फैसला सुनाया है। इस मामले की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि “कंपनी को इस संबंध में बाद की नई नीति के मद्देनजर लोगों की निजता की रक्षा के लिए हस्तक्षेप करना होगा।” कोर्ट ने कहा कि “आप (फेसबुक और व्हाट्सएप) दो या तीन ट्रिलियन (डॉलर) कंपनी हो सकती है। लेकिन लोग अपनी निजता को महत्व देते हैं। यह हमारा कर्तव्य है और लोगों की निजता की रक्षा करना है।”

मुख्य न्यायाधीश शरद ए बोबडे ने कहा कि “लोगों को निजता के नुकसान पर बहुत आशंका है। अगर मैं बी और सी को एक संदेश भेजता हूं, तो लोगों को डर है कि ये सभी संदेश फेसबुक के साथ साझा किए जाएंगे। लोगों को नई नीति के कारण अपने डेटा और गोपनीयता के नुकसान की आशंका है।” इसके साथ ही कोर्ट ने सोमवार को केंद्र और संदेश भेजने वाले ऐप को नोटिस जारी कर चार हफ्ते में उनसे जवाब मांगा।