उत्तराखंड: कैबिनेट के इस फैसले ने आसान कर दी राह, सिर्फ 15 मिनट में दून से मसूरी

0
18

देहरादून: धामी कैबिनेट के एक फैसले ने देहरादून से मसूरी के बीच के सफर को सिर्फ 15 मिनट करने की राह आसान कर दी है। देहरादून-मसूरी रोप-वे को लेकर लंबे समय से प्रयास हो रहे थे। लेकिन, निर्माण में नियम अड़चन बन रहे थे। नियमानुसार अधिक ऊंचाई के कारण रोप-वे नहीं बन रहा था। अब उस अड़चन को सरकार ने दूर कर दिया है।

धामी सरकार ने कैबिनेट में मसूरी रोप-वे को लेकर आ रही समस्या को दूर कर दिया है। सारी अड़चनें दूर होने के बाद रोप-वे के निर्माण का रास्ता भी साफ हो गया है। कैबिनेट बैठक में निर्माण के बायलॉज में राहत देते हुए टर्मिनल को निर्धारित ऊंचाई तक निर्माण की अनुमति दे दी गई।

देहरादून और मसूरी के बीच रोप-वे निर्माण को सरकार के स्तर से सभी अनुमति हो चुकी है। ऊंचाई और रोप-वे की लंबाई की वजह से इसमें ऊंचे-ऊंचे टर्मिनल बनाए जाने हैं। बायलॉज के हिसाब से इतनी ऊंचाई पर टर्मिनल का निर्माण नहीं किया जा सकता है। इसके चलते रोप-वे निर्माण में रुकावट आ रही थी।

अब रुकावट को दूर कर ली गया है। देहरादून-मसूरी के बीच बनने वाला रोप-वे एशिया का दूसरा सबसे बड़ा रोप-वे होगा। रोप-वे के बनने से जहां पर्यटकों को दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं, लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।