उत्तराखंड: एसपी सिंह ने एसटीपी प्लांट निर्माण के खिलाफ दिया धरना

0
74

देहरादून: नकरौंदा में सीवीर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण किया जा रहा है। लेकिन, लोग इसका लंबे समय से विरोध कर रहे हैं। विरोध के चलते प्लांट का काम रोकना भी पड़ा। नदी के तेज उफान में निर्माण बह भी गया था। बावजूद उसी जगह पर एसटीपी प्लांट बनाया जा रहा है, जिसके विरोध में आज कांग्रेस नेता एसपी सिंह ने अकेले ही धरना दिया।

उनका आरोप है कि जिस जगह पर यह एसटीपी प्लांट बनाया जा रहा है, उसके लिए गलत स्थान का चयन किया गया है। प्लांट का निर्माण नदी के बीच किया जा रहा है। जिससे नदी का रुख भी गांव की ओर गया है। बरसात में इसका नुकसान लोगों को उठाना पड़ा। एसटीपी प्लानं के कारण नदी का रुख मुड़ने से लोगों के घरों पर खतरा मंडराया। कुछ घरों को नुकसान भी पहुंचा था।

इतना ही नहीं, एसटीएपी प्लांट तक सीवर पहुंचाने के लिए जो मेन होल बनाए गए हैं, उनसे भी पानी के फ्वारे निकल रहे हैं। वह पानी पूरी तरह से साफ है। प्लांट बनने से प्राकृकिज जलस्रोतों को भी खतरा हो गया है। बड़ी बात यह है कि मेन होलों से जो पानी निकल रहा है। वह नदी के साथ लच्छीवाला पिकनिक स्पॉट की ओर जाता है।

एसपी सिंह का कहना है कि सीवर ट्रीटमेंट प्लांट बनाएं, लेकिन उसके लिए सही स्थान का चयन किया जाना चाहिए। नदी के बीचों-बीच सीवर ट्रीटमेंट प्लांट नहीं बनाया जाना चाहिए। सरकार को चाहिए कि निर्माण से पहले सभी पहलुओं की जांच की जानी चाहिए। उनका कहना है कि अगर सरकार नहीं मानती है, तो आंदोलन किया जाएगा।

पहले भी सरकार को इस संबंध में अवगत कराया जा चुका है। बरसात में हुए नुकसान की जानकारी भी सरकार का है। ग्रामीणों को भविष्य में होने वाली परेशानियों से बचाने के लिए जो भी जरूरी कदम उठाने पड़ेंगे, हम उठाने के लिए तैयार हैं। ग्रामीणों के साथ ही इससे प्राकृतिक जलस्रोत को भी खतरा है।