धमाकों से दहला ये देश, 100 लोगों की मौत और करीब 300 घायल

0
42

सोमालिया की राजधानी मोगादिशु में हुए 2 कार बम धमाकों में 100 लोगों की मौत हो गई है। साथ ही कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं जिससे मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है। राष्ट्रपति हसन शेख मोहम्मद ने रविवार तड़के घटनास्थल पर कहा कि धमाकों में लगभग 300 लोग घायल हुए हैं। उन्होंने इन हमलों को बेहद क्रूर और कायरतापूर्ण कृत्य करार दिया।

फिलहाल किसी समूह ने इन हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है। हालांकि, सोमालिया सरकार ने इन हमलों के लिए अल-कायदा से जुड़े अल-शबाब आतंकवादी समूह को जिम्मेदार ठहराया है, जो राजधानी में अक्सर हमले करता रहा है। मोगादिशु में ये हमले उस दिन हुए, जब राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और अन्य वरिष्ठ अधिकारी अल-शबाब सहित अन्य आतंकवादी समूहों से निपटने के विस्तारित प्रयासों पर चर्चा करने के लिए बैठक कर रहे थे।

शिक्षा मंत्रालय की चारदीवारी के बाहर हुआ धमाका
अधिकारियों ने बताया कि पहला धमाका शिक्षा मंत्रालय की चारदीवारी के बाहर हुआ, जबकि दूसरे विस्फोट में एक व्यस्त रेस्तरां को निशाना बनाया गया। एम्बुलेंस सेवा के निदेशक अब्दुलकादिर अदन ने एक ट्वीट में कहा, ‘पहले हमले में घायल लोगों की मदद करने वाली एक एम्बुलेंस भी दूसरे विस्फोट से नष्ट हो गई।’

‘जमीन पर पड़े शवों की नहीं कर सका गिनती’
एक प्रत्यक्षदर्शी अब्दिरजाक हसन ने बताया कि जब दूसरा धमाका हुआ, तब मैं 100 मीटर दूर था। मैं जमीन पर पड़े शवों की गिनती नहीं कर सका। लोगों के चीखने और चिल्लाने की आवाज आ रही थी। कई लोग मदद की गुहार लगा रहे थे। अक्टूबर 2017 में इसी जगह हुए ट्रक बम धमाके में 500 लोगों की मौत हो गई थी। उस हमले के बाद से यह क्षेत्र में सबसे घातक हमला है।