भारी बारिश के चलते ढह गईं घरों की दीवारें, तीन बच्चाें सहित नौ की मौत

0
127

लखनऊ : लखनऊ में भारी बारिश के चलते कई मकान की दीवारें ढह गईं। लोगों का बहुत नुकसान भी हो गया। वहीं कैंट क्षेत्र के दिलकुशा के पीछे वाली कालोनी से नौ लोगों के मरने की सूचना मिली है।सीएमओ के मुताबिक, नौ लोगों की मौत हुई है। इनमें तीन महिलाएं, तीन पुरुष और तीन बच्चे शामिल हैं। वहीं बचाव को तेजी देने के ल‍िए दिलकुशा में एनडीआरएफ को बुलाया गया है। दो द‍िन से हो रही भारी बारिश के बाद शहर में हर ओर जल भराव है।

cm योगी आदित्यनाथ व रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने घटना पर दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का एलान कर दिया है। सभी मृतकों के परिजनों को शासन की आर से 400,000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी। यह सभी मृतक उल्दन गांव झांसी के रहने वाले बताए जा रहे हैं। सिविल अस्पताल के निदेशक आनंद ओझा ने बताया कि हादसे में नौ की मौत हुई है। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इन दोनों का इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सिविल अस्पताल आने की सूचना है।

हादसे की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी सूर्य पाल गंगवार दिलकुशा कालोनी पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया। जिलाधिकारी ने बताया कि दुर्घटना कल रात से हो रही बारिश के कारण निर्माणाधीन दीवार गिरने से हुई है। दो घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां चिकित्सकों ने दोनों का इलाज शुरू कर दिया है। हालांकि उनके पैर की हड्डियां टूट गईं हैं। सिर पर भी चोटें आईं हैं। डीएम ने सिविल हास्पिटल पहुंच कर उनका हालचाल लिया।

लखनऊ के सांसद व रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर घटना पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट किया कि लखनऊ में एक दीवार गिरने से कई लोगों की मृत्यु होने के समाचार से मुझे बहुत दुख हुआ है। जिन लोगों को इस हादसे में अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। इसके साथ ही मैं इस दुर्घटना में घायल सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने भारी बारिश को देखते हुए सभी जिलों के अधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी क्षेत्र का भ्रमण कर राहत कार्यों पर नजर रखें और प्रभावित लोगों को मदद प्रदान करें। उन्होंने आपदा से हुई जनहानि से प्रभावित परिवारों को अनुमन्य राहत राशि अविलंब प्रदान किए जाने के निर्देश दिए हैं।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि जिन लोगों के घरों को नुकसान पहुंचा है या फिर और कोई हानि हुई है, ऐसे प्रभावितों को तत्काल अनुमन्य वित्तीय सहायता प्रदान की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कई जिलों में बारिश से फसलों को भी नुकसान पहुंच सकता है। उन्होंने अधिकारियों को इसका सर्वेक्षण करने के भी निर्देश दिए।

मृतकों के नाम

  • प्रदीप (28) – पचवारा झांसी
  • रेशमा (25) पत्नी प्रदीप – झांसी
  • नैना (01) – झांसी
  • चंदा (25) – पचवारा पत्नी धर्मेंद्र
  • धर्मेंद्र (28) – पचवारा
  • मानकुंवर देवी (45) – पत्नी पप्पू
  • पप्पू (50) – पचवारा
  • एक साल का लड़का – पिता धर्मेंद्र झांसी
  • दो साल का लड़का- पिता धर्मेंद्र झांसी