BJP के ‘स्टिंग वीडियो’ पर सिसोदिया को आया गुस्सा, मुझे 4 दिन में गिरफ्तार करो नहीं तो…

0
13

नई दिल्ली: कथित शराब घोटाले को लेकर भाजपा की ओर से जारी स्टिंग VIDEO पर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि CBI इसकी जांच करे। सिसोदिया ने कहा कि बीजेपी इसे तुरंत CBI को दे और 4 दिन के भीतर इसकी जांच की जाए। दिल्ली के आबकारी मंत्री के रूप में सीबीआई केस में आरोपी नंबर 1 बनाए गए सिसोदिया ने कहा कि यदि चार दिन में उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाता है तो माना जाए कि यह स्टिंग फर्जी है।

गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब उनसे BJP के स्टिंग ऑपरेशन को लेकर सवाल किया गया तो सिसोदिया ने कहा, श्श्ये जो कथित स्टिंग है, उसे बीजेपी अभी CBI को दे। चार के दिन के अंदर इसकी जांच करके सीबीआई मुझे गिरफ्तार कर ले। CBI इसकी गहनता औऱ तेजी से जांच करे। यदि यह स्टिंग सच्चा है तो चार दिन के अंदर, आज गुरुवार है, सोमवार तक मुझे गिरफ्तार कर ले। नहीं तो आप मान लेना यह BJP और PM मोदी के दफ्तर से रची गई साजिश है। आजकल पीएम ऑफिस में सरकारें गिराने की साजिश ही रची जा रही है।

CBI इसकी जांच करे और पूरे इंटेलिजेंस लगाकर जांच करे। पूरी जांच करके अरेस्ट करें नहीं तो मानो कि स्टिंग झूठा है और प्रधानमंत्री दफ्तर की साजिश है। माफी मांगें कि स्टिंग झूठा है, गलत साजिश की। सिसोदिया ने कहा इन्होंने मेरे यहां सीबीआई की रेड कराई, कुछ नहीं मिला। फिर लॉकर में गए वहां भी केवल बच्चे का झुनझुना मिला। इन्होंने सारी जांच करा ली। सीबीआई के बाद ईडी की जांच करा ली, इसमें भी कुछ नहीं मिला तो स्टिंग लेकर आए हैं, कि देखो जी यह आदमी कह रहा है, इनको दिए होंगे, इनको दिए होंगे।श्श् सिसोदिया ने कहा कि भाजपा आजकल सीबीआई की एक्सटेंडेड ब्रान्च है।

BJP ने गुरुवार को एक कथित स्टिंग वीडियो जारी करते हुए कहा कि AAP घोटाले के उद्देश्य से नई आबकारी नीति लेकर आई थी, ताकि चुनिंदा लोगों को इसका फायदा मिले और इससे अर्जित धन का इस्तेमाल पंजाब और गोवा के विधानसभा चुनावों में किया जा सके।

BJP मुख्यालय में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कथित शराब घोटाले के आरोपी अमित अरोड़ा के एक कथित स्टिंग ऑपरेशन का हवाला दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि वह या तो इस मामले में कार्रवाई करें या फिर भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करने संबंधी अपने पूर्ववर्ती बयानों के लिए सार्वजनिक माफी मांगे।