शिर्डी विवा’द माम’ले में CM उद्धव ठाकरे ने की मुला’क़ात, शिर्डी संस्थान ने कही ये बात

0
441
Uddhav Thackeray

जब से महाराष्ट्र सर’कार बनी है तभी से कोई न कोई क’ठिनाई उनके सामने आ रही है। पहले मंत्रिमंडल का विस्तार, फिर मंत्री पद के बँ’टवारे को लेकर ना’राज़गी इन सभी से सरकार नि’पटे की शुरू हो गया एक और विवा’द, हाल ही में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के गाँव पाथरी को साईं की जन्मभूमि कहकर उसके विकास के लिए 100 करोड़ रुपए देने की घो’षणा की थी। इसके बाद से ही विवा’द शुरू हो गया।

शिर्डी के लोगों ने कहा कि साईं की जन्मभूमि कहकर पाथरी का नाम लेना सही नहीं है। उनका कहना था कि पाथरी के विकास से हमें कोई परे’शानी नहीं है लेकिन साईं की जन्मभूमि कहने पर सारा विवा’द है। इस माम’ले के विरो’ध में शिर्डी को अनि’श्चित का’ल के लिए बं’द करने की घो’षणा की गयी जब तक मुख्यमंत्री अपना ब’यान वापस नहीं लेते ये बं’द शुरू रहने वाला था।

लेकिन इस बं’द के दौ’रान मंदिर खुले रहने वाला था ताकि देश भर से आने वाले लाखों श्रद्धालु दर्शन लाभ ले सकें। आख़िर आज मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलने के बाद श्री साईंबाबा संस्थान ट्रस्ट के प्रतिनिधि ने कहा कि “मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हमारी माँ’गों को स्वी’कार किया है। शिर्डी के सभी लोग उनकी कही बात से संतु’ष्ट हैं। उन्होंने कहा कि अब किसी भी तरह का विवा’द नहीं पैदा होगा इसलिए हम इस बात को यही ख़’त्म कर रहे हैं।”

इस मीटिंग में साईंबाबा मंदिर ट्र’स्ट के लोगों के अला’वा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, बालासाहेब थोराट, अजित पवार, आदित्य ठाकरे आदि मौजूद थे। देश भर में साईंबाबा के लाखों भक्त हैं हर दिन श्रद्धालु यहाँ आकर द’र्शन करते हैं और मन्नतें मानते हैं। साईंबाबा एक संत थे जिनके मानने वाले देश भर में कई लोग हैं।