राष्ट्रपति चुनाव से पहले भाजपा की बड़ी बैठक, क्या रहेगी विपक्ष की रणनीति.?

0
80

देश के मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल जल्दी ही समाप्त होने वाला है। ऐसे में अब नए राष्ट्रपति के चुनाव को लेकर केंद्र में बैठी भाजपा और विपक्ष की तैयारी शुरू हो चुकी हैं। राष्ट्रपति चुनाव में अब केवल दो महीने बाकी हैं, जिसको देखते हुए सभी पार्टियां अपनी तैयारियों में जुट गई हैं। हालांकि अभी तक किसी ने भी राष्ट्रपति उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की है। ऐसे अब कई नाम सामने आ रहे हैं जिनको राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया जा सकता है। आपको बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव से पहले राज्यसभा चुनाव भी होने हैं।

राष्ट्रपति से पहले होना वाला राज्यसभा चुनाव काफी बड़ा और महत्वपूर्ण चुनाव माना जा रहा है। इस चुनाव के परिमाण का सीधा असर राष्ट्रपति चुनाव पर पढ़ने की संभावना है। गोरतलब हैं कि राज्यसभा चुनाव के लिए 10 जून को मतदान होने वाला है। इससे पहले कल भाजपा के वरिष्ट नेताओं ने एक अहम बैठक की है। ये बैठक करीब चार घंटों तक चली है। जानकारी के अनुसार बैठक में अमित शाह और जेपी नड्डा समेत बीजेपी के शीर्ष नेता भी शामिल हुए थे।

वहीं, अगर बात करें राष्ट्रपति चुनाव की तो अगर विपक्ष एकजुट होकर कोई उम्मीदवार खड़ा करता है तो भाजपा के जीत की कोई संभावना नहीं है। क्योंकि मौजूदा समय में भाजपा के पास सांसदों और विधायकों के 48.9% वोट हैं। जबकि विपक्ष और अन्य पार्टियों के पास 51.1 फीसदी वोट हैं। जीत के लिए भाजपा को समर्थन की जरूरत पढ़ेगी। अब देखना होगा की भाजपा किस तरह हो किस से समर्थन की बात करती है। वहीं, दूसरी ओर विपक्ष भी अन्य पार्टियों को अपने साथ मिलाने की कोशिशों में जुटा हुआ है।