रेप पीड़िता के साथ सेल्फी खींचकर तफरी करती दिखीं महिला आयोग की सदस्य

0
173

ज्यादा दिन नहीं हुए जब राजस्‍थान से आई एक खबर ने हर किसी को सोचने पर मजबूर कर दिया था। खबर थी एक विवाहिता पर उसके ससुरालियों द्वारा किए गए जुल्मों की, जिसमें उसके साथ पति की शह पर गैंगरेप करते हुए उसके हाथ पर लिख दिया गया था ‘मेरा बाप चोर है।’
ऐसे में जब हर किसी की सहानभूति उस पीड़िता के साथ है और हर कोई उसे न्याय दिलाना चाहता है तब उससे मिलने पहुंची राजस्‍थान महिला आयोग की सदस्याएं तफरी के मूड़ में दिखीं। आयोग की अध्यक्षा और एक सदस्या तो पीड़िता के साथ सेल्फी खींचने में लगी रही।
इसकी तस्वीरें वायरल हुई तो मामले में लीपापोती भी ऐसी कि सुनने वाले ताज्जुब में पड़ जाएं। आयोग अध्यक्षा ने सेल्फी खींचने वाली सदस्य को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है जबकि वह खुद उस समय मौके पर मौजूद थीं।
जानकारी के अनुसार मामला राजस्‍थान की राजधानी जयपुर का है। जहां जयपुर उत्तर के महिला थाने में मौजूद पीड़िता से मिलने के लिए आयोग की अध्यक्षा सुमन शर्मा और सदस्य सौम्या गुर्जर गईं थी। इसी दौरान पीड़िता से बातचीत के बाद सौम्या गुर्जर उसके साथ सेल्फी खींचने लगी।
खास बात ये रही कि उनके साथ अध्यक्ष सुमन शर्मा भी उस समय वहीं पर थी। इस दौरान दोनों खूब खिलखिलाकर पीड़िता से बातचीत कर रही ‌थीं। आयोग की दोनों सदस्यों का यह संवेदनहीन रवैया पूरे आयोग को कटघरे में खड़ा करने वाला है, क्योंकि जब उन्हें पीड़िता के साथ संवेदना बरतते हुए उसके दुख को कम करने का प्रयास करना चाहिए था तब वह तफरी के मूड़ में दिखीं।
बहरहाल तस्वीरें खींची गईं थी तो सामने भी आनी थी। खासकर ये सोशल मीडिया में आई तो इनको लेकर बवाल मच गया। देखते ही देखते यह तस्वीरें वायरल हुई तो हंगामा खड़ा हो गया। इसके बाद महिला आयोग बैकफुट पर आ गया।
मीडिया में यह मामला आया तो आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा ने सदस्य सौम्या गुर्जर को नोटिस भेजकर जवाब मांग लिया, लेकिन सवाल ये है कि जब वह खुद मौके पर मौजूद थीं और सेल्फी खिंचवाने में लगी थी तब सवाल जवाब की खानापूर्ति से क्या हासिल होगा।
हालांकि आयोग की अध्यक्ष की दलील है कि यह फोटो किसी और ने खींच कर डाला है सेल्फी नहीं ली गई थी। हालांकि तस्वीर उनके इस बयान की चुगली कर रही है। वहीं इससे पहले उन्होंने टीवी पर सफाई दी थी कि आमतौर पर जब हम ऐसी जगह जाते हैं तो पीड़िता काफी डरी सहमी होती है इसलिए उसका मन हल्का करने के लिए इस तरह की हल्की फुल्की बातें की जाती थी। सेल्फी भी इसी लिए ली गई थी। मामले पर विवाद शुरू हुआ तो तुरंत उनके सुर बदल गए।