पेट्रोल के बढ़ते दामों के बीच इन पांच राज्यों ने दी लोगों को राहत, टैक्स में की…

0
83

पेट्रोल (petrol) और डीजल (diesel) की कीमतों में लगातार तेजी बनी हुई है। भले ही दो दिनों से तेल के दाम स्थिर हों। लेकिन देश भर में पेट्रोल-डीजल के दाम ऐतिहासिक रिकॉर्ड स्तर पर चल रहे हैं। केंद्र सरकार पेट्रोल की रिकॉर्ड कीमतों को लेकर धर्म संकट का सामना कर रही है, लेकिन पांच चार राज्यों ने ग्राहकों को पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों से राहत दी है। बता दें कि इन राज्यों में घटाई गई कीमत का कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों से कोई लेना-देना नहीं है। इन सभी राज्यों ने टैक्स घटकर लोगों को थोड़ी सी राहत पहुचाई है।

तेल के तेज़ी से बढ़ती कीमतों के दो ही कारण हैं। पहला तो अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (Crude Oil) का भाव और दूसरा केंद्र व राज्य सरकारों की ओर से ज्यादा टैक्स वसूल करना। इस बीच नागालैंड की सरकार ने बीते सोमवार को पेट्रोल और डीज़ल पर टैक्स कम करने का ऐलान कर दिया है। राज्य के वित्तीय विभाग के प्रमुख सचिव ने खुद इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने एक नोटिफिकेशन जारी कर कहा कि “पेट्रोल-डीज़ल पर टैक्स कम कर दिया गया है और यह नई दरें 22 फरवरी को मध्यारात्रि से लागू भी कर दी गई हैं।”

कुल मिलाकर देखें तो नागालैंड सरकार के इस फैसले के बाद अब यहां के लोगों को हर एक लीटर पेट्रोल पर 2.22 रुपये और डीज़ल पर 57 पैसे की बचत होगी। इसके अलावा पश्चिम बंगाल, राजस्थान, असम और मेघालय ने भी टैक्स घटाने का फैसला किया था। गौरतलब हैं कि राजस्थान में तो पेट्रोल की कीमत 100 रुपए प्रति लीटर से भी अधिक पहुंच गई थी। जिसके बाद सरकार ने टैक्स घटाने का फैसला लिया। इस फैसले के चलते राज्य के लोगों को थोड़ी राहत मिली।