एक रिपोर्ट ने बयान किया हाल, इस समस्या से जूझ रहा है पाकिस्तान

0
356
प्रतीकात्मक तस्वीर

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) की एक रिपोर्ट की मानें तो पाकिस्तान की विकास दर मौजूदा वित्त वर्ष 2019-20 में दक्षिण एशिया में सबसे कम यानी 2.8 फ़ीसदी रह सकती है। बैंक की एशियन डेवलपमेंट आउटलुक रिपोर्ट में बताया गया है कि पाकिस्तान में मौजूदा वित्त वर्ष में विकास में कमी देखी गई है। नीतियों को लेकर अनिर्णय और वित्तीय तथा वाह्य आर्थिक असंतुलन की वजह से निवेश में कमी भी देखी गई है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि वित्तीय संतुलन को सही बिठाने की कोशिश से घरेलू मांग पर भी अवश्य ही असर पड़ेगा। और मांग में आई कमी की वजह से विनिर्माण क्षेत्र में सुस्ती देखी जा सकती है। लेकिन कृषि के क्षेत्र में सरकार की कोशिशों की वजह से अच्छी प्रगति होने की संभावना भी जताई जा रही है। एडीबी की रिपोर्ट के मुताबिक़ दक्षिण एशिया में मौजूदा वित्तीय वर्ष में पाकिस्तान के बाद सबसे कम जीडीपी अफ़गानिस्तान (3.4 फ़ीसदी) रह सकती है।

इसके बाद श्रीलंका(3.5 फ़ीसदी) भूटान( 6 फ़ीसदी) मालदीव और नेपाल (दोनों की अनुमानित जीडीपी 6.3 फ़ीसदी) भारत (7.2 फ़ीसदी) और बांग्लादेश (8 फ़ीसदी) रहने का अनुमान लगाया जा रहा है। एडीबी की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था की विकास दर पूरे दक्षिण एशिया में सबसे कम रहने की संभावना जताई जा रही है। साथ ही पाकिस्तान में महंगाई दर भी इस साल 2018 के (3.9 फ़ीसदी) की अपेक्षा सर्वाधिक (7.3 फ़ीसदी) रही जिसकी वजह से पाकिस्तान में लोगों का बुरा हाल रहा।