केंद्र के इस फैसले के खिलाफ युवाओं का प्रदर्शन, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले…

0
93

पिछले कुछ सालों से केंद्र के फैसलों के खिलाफ प्रदर्शन होता देखा जा रहा है। पहले सीएए, एनआरसी के मुद्दे पर जमकर प्रदर्शन हुआ। उसके बाद कई महीनों तक किसानों का आंदोलन जारी रहा और अब एक और बड़े प्रदर्शन का आगाज हो चुका है। केंद्र द्वारा भारतीय सेना में भर्ती के लिए जारी की गई अग्निपथ योजना के खिलाफ हजारों युवा सड़कों पर उतर आए हैं। इस विरोध प्रदर्शन में खास तौर पर बिहार के युवाओं ने हिस्सा लिया है। खबर मिली है कि बिहार के युवा सड़कों के साथ साथ रेलवे ट्रैक पर भी उतर आए हैं।

युवाओं ने रेल रोको आंदोलन शुरू किया है, इसके साथ ही कई हाईवेज को भी ब्लॉक कर दिया है। जानकारी के अनुसार बिहार के युवाओं द्वारा ट्रेन पर पथराव भी किया गया है और साथ ही ट्रेन की बोगी में आग भी लगाई गई है। हालांकि इसके खिलाफ एक्शन लेते हुए बिहार पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागकर युवाओं को खदेड़ दिया। खबरों के अनुसार प्रदेश के जहानाबाद, नवादा और सहरसा में प्रदर्शन ज्यादा तेज है। एनएच-83 और एनएच-110 को जाम भी कर दिया गया है।

प्रदर्शन के दौरान कई युवाओं को चोट भी लगी है। पथराव के दौरान ट्रेन का भी काफी नुकसान हुआ है। कई शीशे टूट भी चुके हैं। ऐसे में पुलिस ने अपनी कार्यवाई भी तेज करदी है। प्रदर्शन के दौरान हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई भी की जा रही है। बता दें कि पत्थरबाजी जहानाबाद स्टेशन के समीप हुई, जिसके बाद पुलिस ने छात्रों को खदेड़ कर रेलवे ट्रैक को खाली कराया।