कर्मचारियों की लापरवाही के कारण PNB का भारी नुक्सान, 42 लाख के नोट…

0
118

लापरवाही के अब तक अपने कई मामले सुने होंगे, लेकिन आज जो मामला हम आपको बताने जा रहे हैं, उनको सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। ये मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर में पेश आया है। उत्तर प्रदेश के कानपुर में पांडू नगर की पंजाब नेशनल बैंक में लापरवाही की हद पार हो गई है। आपको बता दें कि बैंक कर्मचारियों की लापरवाही की वजह से बैंक का भारी नुक्सान हो गया है। जिसकी वजह से बैंक के चार अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया है।

आपको बता दें कि एक छोटी सी गलती की वजह से 42 लाख रुपए की करेंसी बेकार हो गई। यहां आप सोच रहे होंगे कि करेंसी केसे बेकार हो गई? तो आपको बता दें कि ये 42 लाख रुपए के नोट एक छोटी सी गलती की वजह से पानी में गल जाए। दरअसल, बैंक के लॉकर्स में पैसे रखने की जगह नहीं बची थी, जिसके कारण इन पैसों को एक बक्से में कर के रख दिया गया था और बक्से को दीवार के सहारे रख दिया गया था।

लेकिन जब बारिश हुई तो दीवार में सीलन आ गई और नोटों से भरे बक्से में पानी भर गया। कर्मचारियों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने बक्से को खोलकर देखा, ऊपर के सभी नोट सूखे थे, उन्हें लगा कि पानी सुख गया होगा। लेकिन पानी बक्से के निचले हिस्से में था। जिसके कारण नोट धीरे धीरे गल जाए। इसकी जानकारी मिलने पर आरबीआई की एक टीम जांच करने पहुंची और चार अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया। इस चार अधिकारियों में वरिष्ठ प्रबंधक देवीशंकर, प्रबंधक आसाराम, चेस्ट ऑफिसर राकेश कुमार और वरिष्ठ प्रबंधक भास्कर कुमार भार्गव का नाम शामिल हैं।